blogid : 1 postid : 1318106

रियलिटी शो में मुस्लिम लड़की ने गाया हिंदू धार्मिक भजन,सोशल मीडिया पर इस तरह से बनाया जा रहा है निशाना

Posted On: 8 Mar, 2017 Hindi News में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

कला की कोई सीमा नहीं होती, कलाकार जाति, धर्म, क्षेत्र, समुदाय से ऊपर होता है. लेकिन अब कुछ लोग कलाकार का धर्म और उसकी जाति पहले देखते हैं. कुछ दिनों पहले आपने ‘दंगल’ फिल्म में छोटी गीता का किरदार निभाने वाली जायरा वसीम के बारे में भी सुना होगा जिन्हें कई लोगों ने सोशल मीडिया पर अपमानित किया था, क्योंकि वो खुद को रोल मॉडल बता रही थीं और अब ऐसा ही कुछ हो रहा है एक मुस्लिम गायिका सुहाना सईद के साथ.


pic58



कन्नड़ रियलिटी शो से मशहूर हुईं सुहाना

कर्नाटक के शिमोगा में रहने वाली एक मुस्लिम लड़की सुहाना सईद को सोशल मीडिया पर महज इसलिए निशाना बनाया जा रहा है क्योंकि उसने एक कन्नड़ रियलिटी शो के दौरान भजन गाया और कुछ लोगों को उनकी सुरीली आवाज कानों में चुभ गई और लोगों ने उन्हें सोशल मीडिया पर ट्रोल कर दिया.


शो के जज हुए सुहाना के मुरीद

महज 22 साल की सुहाना सईद ने कभी सोचा भी नहीं होगा कि उनकी गायकी इस कदर उनपर भारी पड़ जाएगी. जहां एक तरफ शो के जज सुहाना की तारीफ कर रहे हैं और उन्हें एक मिशाल बता रहे हैं, वहीं कुछ लोगों ने उनपर मुस्लिम समुदाय को कलंकित करने का आरोप लगाया है.


suhanan



फेसबुक पेज पर बनाया जा रहा है निशाना

‘मंगलोर मुस्लिम्स’ नाम के एक फेसबुक पेज पर उनके गाने को समुदाय का अपमान बताया गया है. सुहाना के गाने को लेकर लिखा गया, ‘सुहाना ने आदमियों के सामने गाना गाकर पूरे मुस्लिम समुदाय को अपमानित किया है, सुहाना ये ना महसूस करे कि उन्होंने गाना गाकर कोई महान काम किया है, जो लोग 6 महीने के अंदर कुरान पढ़ लेते हैं वो सुहाना से ज्यादा हासिल कर लेते हैं.’


facebook




पर्दा करना छोड़ दें

सुहाना के माता-पिता को भी इन सब का शिकार होना पड़ा और ‘मंगलोर मुस्लिम्स’ फेसबुक पेज पर आगे लिखा गया, ‘आपके मां-बाप ने आदमियों के सामने आपको खूबसूरती दिखाने के लिए प्रोत्साहित किया है आपकी वजह से वो जन्नत में नहीं जा पाएंगे. जो पर्दा आपने किया हुआ है अगर आप उसका सम्मान नहीं करतीं, तो आप वो पर्दा करना छोड़ दें.


suhana2



साथ देने वाले की भी नहीं है कमी

वहीं इस लड़ाई में कई लोग सुहाना के साथ खड़े हैं, कन्नड़ संगीतकार अर्जुन जनाया ने उनका साथ देते हुए कहा कि, ‘सुहाना की गीतकारी एकता की मिसाल पेश कर रही है. उनके गाने से ये पता चलता है कि कैसे पूरी दुनिया में संगीत के जरिए धार्मिक सौहार्द और शांति स्थापित की जा सकती है.’…Next



Read More:

3 साल पहले जायरा वसीम की मां ने पाक के समर्थन में किया ये पोस्ट, अब हो रहा है वायरल

देश की ऐसी पहली महिला एसीपी जिनके पास है ये 3 बड़ी प्रोफेशनल डिग्री, कुछ ही सालों में हासिल की ये डिग्रियां

रेलवे का खाना खाने के लिए क्या कभी आपने ‘मेन्यू कार्ड’ मांगा? यूं काटी जा रही है आपकी जेब



Tags:                             

Rate this Article:

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5 (0 votes, average: 0.00 out of 5, rated)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran