blogid : 1 postid : 1328363

सफाई के मामले में पीछे रह गए दिल्ली और यूपी, ये शहर बना नंबर-1

Posted On: 4 May, 2017 Hindi News में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

देश में स्वच्छता के लिए बेहतर प्रयास करने वाले 500 शहरों के ‘स्वच्छ सर्वेक्षण-2017′ में मध्यप्रदेश के आठ शहरों ने शीर्ष 25 शहरों की सूची में स्थान बनाया है. देश के 434 शहरों एवं नगरों में कराए गए स्वच्छ भारत सर्वेक्षण के बाद केंद्र सरकार ने गुरुवार को स्वच्छ भारत रैंकिंग जारी कर दी. केंद्रीय शहरी विकास मंत्री एम वेंकैया नायडू ने सरकार द्वारा जनता की रायशुमारी से किए गए ‘स्वच्छ सर्वेक्षण 2017′ में सबसे साफ 25 शहरों की सूची जारी करते हुए बताया कि कुल 434 शहरों में यह सर्वेक्षण किया गया था.


cover


स्वच्छता रैंकिंग में टॉप पर रहा इंदौर

साल 2017 के स्वच्छ सर्वेक्षण के मुताबिक, स्वच्छता रैंकिंग में इंदौर पहले पायदान पर रहा, तो वहीं मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल दूसरे नंबर पर रहा. वहीं सफाई के मामले में यूपी सबसे फिसड्डी साबित हुआ. देश के दस सबसे गंदे शहरों पर चार यूपी के ही थे.

1 इंदौर

2 भोपाल

3 विशाखापत्तनम (विजाग)

4 सूरत

5 मैसूर (मैसूर)

6 तिरुचिरापल्ली (त्रिची)

7 नई दिल्ली नगर परिषद (एनडीएमसी)

8 नवीं मुम्बई

9 तिरुपति

10 वडोदरा


clean city


सफाई में MP ने मारी बाजी

इस लिस्ट में मध्यप्रदेश इंदौर और भोपाल के बाद सफाई के मामले में विशाखापट्टनम, सूरत, मैसूरू, तिरुचिरापल्ली, दिल्ली के NDMC वाले इलाके, नवीं मुंबई, तिरुपति और वडोदरा का नंबर है.  वहीं सफाई के मामले में सबसे खराब रिकॉर्ड वाले 10 शहरों में यूपी के चार, बिहार और पंजाब के दो तथा उत्तराखंड व महाराष्ट्र के एक-एक शहर शामिल हैं. स्वच्छता सर्वेक्षण के तहत जारी कुल 434 देशों की लिस्ट में गोंडा सबसे गंदा शहर रहा. वहीं महाराष्ट्र के भुसावल 433वें पायेदान पर, इसके बाद बिहार का बगहा, उत्तराखंड का हरदोई, बिहार का कटिहार, यूपी का बहराइच, पंजाब का मुक्तसर और अबोहर तथा इसके बाद यूपी का शाहजहांपुर 426वें तथा खुर्जा 425वें स्थान के साथ देश के दस सबसे गंदे शहरों में रहा.

clean


इन पैमानों पर मापा गया सफाई का हाल

देश के 434 शहरों और नगरों में कराए गए स्वच्छता सर्वेक्षण के मुताबिक, इसमें हिस्सा लेने वाले 83 फीसदी से अधिक लोगों ने बताया कि उनके इलाके में पिछले साल के मुकाबले ज्यादा साफ-सफाई देखने को मिली है. सरकार की ओर से जारी सर्वेक्षण नतीजों में यह बात भी सामने आई है कि स्वच्छता सर्वेक्षण 2017 के अनुसार, 82% से ज्यादा नागरिकों ने स्वच्छता बुनियादी ढांचा और अधिक कूड़ेदान की उपलब्धता के अलावा घर-घर जाकर कूड़ा इकट्ठा करने जैसी सेवाओं में सुधार पर बात की, जबकि 80% लोगों ने सामुदायिक और सार्वजनिक शौचालयों तक बेहतर पहुंच बनाए जाने पर जोर दिया.

venkaiah-naidu_


स्वच्छ सर्वेक्षण 2017 के मुताबिक देश के इन 10 शहरों में सबसे ज्यादा गंदगी है.

1) गोंडा – उत्तर प्रदेश

2) भुसावल – महाराष्ट्र

3) बगहा – बिहार

4) हरदोई – उत्तर प्रदेश

5) कटिहार – बिहार

6) बहराइच – उत्तर प्रदेश

7) मुक्तसर – पंजाब

8) अबोहर – पंजाब

9) शाहजहांपुर – उत्तर प्रदेश

10) खुर्जा – उत्तर प्रदेश

सर्वे में कहा गया है कि 404 शहरों और कस्बों के 75 प्रतिशत आवासीय क्षेत्र में अधिक स्वच्छता देखी गई. इसके साथ ही 185 शहरों में रेलवे स्टेशन के आसपास का पूरा इलाका स्वच्छ बताया गया है….Next


Read More:

इस भारतीय क्रिकेटर के फैन हैं शाहरुख खान, पजामा बेचकर अगले आईपीएल में खरीदेंगे!

अगर नहीं किया ये काम तो 1 जुलाई से आपका पैन कार्ड हो जाएगा रिजेक्ट

अक्षय ने बनाया शहीदों के परिवारवालों की मदद करने वाला ऐप, यहां से लिया था आइडिया

इस भारतीय क्रिकेटर के फैन हैं शाहरुख खान, पजामा बेचकर अगले आईपीएल में खरीदेंगे!
अगर नहीं किया ये काम तो 1 जुलाई से आपका पैन कार्ड हो जाएगा रिजेक्ट
अक्षय ने बनाया शहीदों के परिवारवालों की मदद करने वाला ऐप, यहां से लिया था आइडिया


Tags:                                     

Rate this Article:

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5 (0 votes, average: 0.00 out of 5, rated)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran