JagranJunction Blogs

Aapki Awaaz, Aapka Blog. Your Voice, Your Blog.

60,000 Posts

63639 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 1 postid : 1343208

महीना-ए-अगस्त...

Posted On: 30 Jul, 2017 Others,कविता में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

india

महीना-ए-अगस्त
आने को है जनाब,
उठने को है देशप्रेम
का सोया सैलाब।

कोई व्हाट्सऐप पर तिरंगे
की डी पी लगाएगा,
कोई फेसबुक पर देशभक्ति
का परचम लहराएगा।

आज़ादी का जश्न हर कोई,
ऑनलाइन मनाएगा।
‘आई लव माई इंडिया’ का नारा
अपने भाग्य पर इठलाएगा।

मॉलों में 70% सेल का धमाल
अखबारों को चमकाएगा,
सेल का फायदा हर ज़िम्मेदार
भारतीय, जी खोलकर उठाएगा।

ट्रैफिक लाइटों पर तिरंगों
की बिक्री होगी ज़ोरों पर,
हर रेडियो चैनल देशभक्ति
के कसौटी पर श्रोताओं
को कसता नज़र आएगा।

15 तारीख के बाद सारी देशभक्ति
रफूचक्कर हो जाएगी,
डीपियां फिर से अपनी वही
मदमाती अदा मे बदल जाएंगी।

मॉलों में लगे तिरंगी गुब्बारों
की हवा निकल चुकी होगी,
झालरों और स्लोगनों की
सजावट फटकर लटक चुकी होंगी।

जहाँ-तहाँ सड़कों पर तिरंगे
पैरों के नीचे कुचल रहे होंगे,
रेडियो चैनल्स फिर से कुछ
फूहड़ गानों पर उछल रहे होंगे।

देशभक्ति का जज़्बा 26 जनवरी
तक के लिए फिर से सो जाएगा,
एक बार फिर आई लव माई इंडिया
का नारा धूम मचाएगा।

कितना आसान तो होता है देश के
प्रति दिखाना प्यार का परवान,
फिर क्यों सरहदों पर पत्थर
खा रहे हैं हमारे जवान?

इतना कुछ है लिखने को
खौला रहा दिल मे उफान,
कह देने मात्र से नहीं रुकेगा
मेरी विक्षिप्त भावों का तूफान,

खैर आप सभी जश्ने आज़ादी
दिल खोल कर मनाइए,
ऑनलाइन देशप्रेम के मैसेज
और डीपियों का सैलाब बहाइए।



Tags:     

Rate this Article:

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5 (0 votes, average: 0.00 out of 5, rated)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



latest from jagran