blogid : 1 postid : 1348023

इस राजा की मौत का रहस्य सुलझाने के लिए कब्र से निकाला गया 3 बार

Posted On: 23 Aug, 2017 Infotainment में

Pratima Jaiswal

  • SocialTwist Tell-a-Friend

दुनिया रहस्यों से भरी हुई है. हमारे आसपास की दुनिया में न जाने ऐसे कितने ही रहस्य हैं जिनके बारे में आज तक कोई नहीं जान पाया है. इसी तरह मिस्र एक ऐसी जगह है जहां पर न जाने कितने राज दफन हैं. जिन पर से आज तक पर्दा नहीं उठ सका है. ऐसा ही रहस्य है 19 साल की उम्र में मौत का शिकार हुए प्राचीन मिस्र के सबसे चर्चित राजा तूतनखामेन का.  जिनकी मृत्यु लगभग तीन हजार सालों पहले हो चुकी है लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि आज इतने सालों बाद भी तूतनखामेन की मौत को लेकर वैज्ञानिकों के तर्क अलग-अलग हैं. हालांकि, आज से 85 वर्ष पहले ब्रितानी पुरातत्ववेत्ता हॉवर्ड कार्टर ने तूतनखामेन की मौत के रहस्य को सुलझाने के लिए काफी सालों तक रिसर्च करके कुछ तथ्य पेश किए थे. उन रहस्यों पर बात करने से पहले आइए जानते हैं तूतनखामेन के बारे में.



tut

कौन था तूतनखामेन (टट)

प्राचीन मिस्र में राजा को फराओं कहा जाता था. तूतनखामेन मिस्र का राजा था जिसने मिस्र पर 1333 ईसापूर्व से लेकर 1324 ईसापूर्व तक शासन किया और महज 19 वर्ष की उम्र में उनकी मृत्यु हो गई. लेकिन इस कम उम्र राजा की मौत एक पहेली ही बनकर रह गई. बहुत से लोगों का कहना था कि टट को राज घराने में चल रही रंजिश का शिकार होना पड़ा था. उनकी हत्या की गई थी. जबकि आज तक किसी भी वैज्ञानिक ने ऐसा दावे के साथ नहीं कहा है.

tut5

रिसर्च में हुए चौंका देने वाले खुलासे

तूतनखामेन को जितनी प्रसिद्धि अपने शासनकाल में नहीं मिली होगी उतनी मौत के बाद मिली, जब 1922 में कार्टर ने उनकी ममी ढूंढ निकाली. ‘वैली ऑफ किंग्स’ में मिस्र के प्राचीन शासकों की ममी रखी गई हैं. उनके कब्र से सोने और हाथी दांत से बने आभूषणों का जखीरा निकला. कार्टर ने अपनी स्टडी में लिखा था कि जब मैंने पहली बार तूतनखामेन की ममी को देखा तो ममी ने तावीज पहन रखा था और पूरा चेहरा सोने से बने मास्क से ढंका हुआ था. इन सामानों को निकालने के लिए कार्टर और उनकी टीम के सदस्यों ने तूतनखामेन के शरीर के कई टुकड़े कर दिए.


tut 3

Read : यहां बहता है खून का झरना, वैज्ञानिक भी इसका रहस्य जानकर रह गए हैरान

सोने के मास्क को हटाने के लिए गर्म छुरियों और तारों का इस्तेमाल किया गया. इस मास्क को बाम की तरह तूतनखामेन के चेहरे पर चढ़ाया गया था. काटे हुए शरीर को दोबारा ठीक करने के बाद 1926 में उसे फिर से पुरानी जगह पर रख दिया गया. उसके बाद से ममी को एक्स-रे के लिए सिर्फ तीन बार बाहर निकाला गया है. वर्ष 1968 में हुए एक्स-रे से ऐसा पता चला कि हड्डी का एक टुकड़ा उनकी खोपड़ी में धंसा हुआ है जिससे कयास लगे कि 19 वर्षीय तूतनखामेन की मौत स्वाभाविक नहीं थी बल्कि उनकी हत्या की गई होगी.

tut 4


रात में तूतनखामेन की ममी घूमते देखे जाने का दावा

मिस्र देश को पूरी दुनिया में रहस्यों के लिए जाना जाता है. कहा जाता है कि यहां रात के वक्त पिरामिडों के आसपास ममी घूमती दिखती हैं. साथ ही यहां अजीब तरह के संगीत की आवाज भी सुनाई देती है. तूतनखामेन के बारे में भी यही कहा जाता है कि कई बार सीटी स्कैन और पोस्टमार्टम से गुजरने के बाद भी मिस्र के पिरामिडों के पास तूतनखामेन की आत्मा को घूमते हुए देखा गया है…Next

Read more

कई रहस्यों को लिये बैठी है दुनिया की ये सबसे बड़ी गुफा

एक अद्भुत रहस्य: हर बार एक्सीडेंट वाली जगह पर कैसे आ जाती थी ये मोटरबाइक

जानना चाहेंगे इस सबसे पुरानी पहाड़ी का रहस्य जहां सबसे पहले च्यवनप्राश की उत्पत्ति हुई



Tags:                 

Rate this Article:

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5 (0 votes, average: 0.00 out of 5, rated)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran