blogid : 1 postid : 1372587

ओखी तूफान का कहर: रद्द हुई अमित शाह की रैली, कई जगह स्‍कूल भी बंद

Posted On: 5 Dec, 2017 Hindi News में

Avanish Kumar Upadhyay

  • SocialTwist Tell-a-Friend

ओखी तूफान का कहर बढ़ता ही जा रहा है। इसकी वजह से राजनीति से लेकर शिक्षा तक प्रभावित हो गई है। Ockhi cyclone ने गुजरात चुनाव प्रचार को भी प्रभावित कर दिया है। दक्षिण भारत के राज्यों में तबाही मचाने के बाद ओखी चक्रवाती तूफान गुजरात की तरफ बढ़ रहा है। इसकी वजह से भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की रैलियां कैंसिल करनी पड़ी। वहीं, महाराष्‍ट्र और गुजरात में कुछ जगह स्‍कूलों में छुट्टी कर दी गई। सूरत में लोगों को घरों से बाहर न निकलने को लेकर निर्देश जारी किया गया है। आइये आपको बताते हैं कि ओखी तूफान की वजह से अभी तक कहां और कितना प्रभाव पड़ा है।


amit shah


तीन जगह होनी थी अमित शाह की रैली

दरअसल, आज यानी मंगलवार को भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह को राजुला, महुवा और शिहोर में रैली करनी थी। ओखी तूफान की वजह से तेज बारिश और हवाएं चल रही हैं, जिस कारण उस इलाके में हेलिकॉप्टर उतरना आसान नहीं है। इसे देखते हुए शाह की रैलियों को रद्द कर दिया गया। बता दें कि गुजरात में पहले चरण के लिए 9 दिसंबर को मतदान होने हैं, यानी 7 दिसंबर को चुनाव प्रचार बंद हो जाएगा। प्रचार के लिए अब दो ही दिन बचे हैं। वहीं, दूसरी तरफ कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी मंगलवार को गुजरात में ही रहेंगे। वे पूरे दिन कई सभाओं को संबोधित करेंगे।


okhi


महाराष्‍ट्र और सूरत में स्‍कूल बंद

उधर, साइक्लोन OCKHI मुंबई पहुंच चुका है। महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई के पास के इलाके सिंधुदुर्ग, ठाणे, रायगढ़ और पालघर जिलों के स्कूलों को एहतियातन बंद कर दिया है। मौसम विभाग के अनुसार, मुंबई-पुणे एक्सप्रेसवे के कुछ इलाकों में ओले गिरने की भी खबर है। अगले 24 घंटों में मुंबई के उपनगरों में OCKHI तूफान का असर दिखाई देगा। वहीं, गुजरात के सूरत में डीएम ने बुधवार तक स्कूलों में छुट्टी करने का निर्देश दिया है। इसके अलावा प्रशासन ने रात 8 बजे से सुबह 5 बजे तक लोगों को घर से बाहर न निकलने के लिए कहा है। बताया जा रहा है कि सूरत में रात 12 बजे से सुबह 5 बजे के बीच तूफान का जबरदस्त असर दिखेगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, प्रशासन ने एहतियात के तौर पर सभी राजनीतिक दलों को चुनाव प्रचार न करने का निर्देश भी जारी किया है।


okhi1


सूरत पहुंचने तक इसकी ताकत में आएगी कमी

मौसम विभाग के मुताबिक, जब यह साइक्लोन सूरत के पास पहुंचेगा, तो इसकी ताकत में कमी आ चुकी होगी और यह डीप डिप्रेशन रह जाएगा। इस समय इसमें चलने वाली हवाओं की रफ्तार 50 किलोमीटर प्रति घंटे से लेकर 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रहेगी। मगर इन हवाओं में कच्चे घरों को नुकसान पहुंच सकता है। इसी के साथ मौसम विभाग ने सौराष्ट्र और दक्षिण गुजरात के तमाम इलाकों में 5 दिसंबर को भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।


ockhi3


तमिलनाडु, केरल और लक्षद्वीप में मचा चुका है तबाही

बता दें कि इससे पहले ओखी तूफान तमिलनाडु, केरल और लक्षद्वीप में तबाही मचा चुका है। वहां इस तूफान ने काफी नुकसान किया। इसे राष्ट्रीय आपदा घोषित करने की मांग भी उठी थी, जिसको माना नहीं गया। ओखी की वजह से केरल और तमिलनाडु में 22 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। लक्षद्वीप में भूस्खलन भी हुआ था। मौसम विभाग ने केरल, तमिलनाडु के मछुआरों को पहले ही चेतावनी दी थी कि वे समुद्र से दूर रहें।


Read More:

पाकिस्‍तान में दीवार पर लिखा ‘हिंदुस्‍तान जिंदाबाद’, युवक हुआ गिरफ्तार
जयललिता ने 3 रुपये में लोगों को दिया था खाना, इन 5 फैसलों ने उन्हें बनाया ‘अम्मा
भीम ऐप से भुगतान पर वापस होगा रेल टिकट का पूरा पैसा! जानें किसे मिलेगा फायदा



Tags:                               

Rate this Article:

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5 (0 votes, average: 0.00 out of 5, rated)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran