blogid : 1 postid : 1384331

भारत के इस गांव का हर परिवार हुआ लखपति, बना एशिया का पहला करोड़पति गांव

Posted On: 9 Feb, 2018 Hindi News में

Shilpi Singh

  • SocialTwist Tell-a-Friend

अरुणाचल प्रदेश के बोमजा गांव का हर परिवार करोड़पति बन गया है और ऐसा सच में हुआ है। दरअसल बोमजा गांव चीन और भूटान की सीमा से लगते तवांग जिले में स्थित है। भारतीय सेना ने यहां बेस विकसित करने के लिए गांव की 200 एकड़ जमीन का अधिग्रहण किया था। रक्षा मंत्रालय ने इसके एवज में ग्रामीणों के लिए 40.80 करोड़ रुपये से भी ज्यादा का मुआवजा जारी किया। मंत्रालय ने भूमि अधिग्रहण की एवज में इस गांव के लिए 40,80,38,400 की धनराशि जारी की।



cover arunachal



मुख्यमंत्री ने बांटे चेक

पूर्वोत्तर राज्य अरुणाचल प्रदेश के एक गांव के सभी परिवार करोड़पति हो गए हैं। रक्षा मंत्रालय ने बोमला गांव के 31 घरों को 200.056 एकड़ जमीन का अधिग्रहण के लिए मुआवजा दिया। मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने बुधवार को बोमजा गांव के उन जमींदारों को 40,80,38,400 रुपये का मुआवजा दिया, जिनकी जमीन पर भारतीय सेना ने अधिग्रहण किया था। सीएम ने मुआवजे की राशि वाले चेक बांटते हुए इस बात की जानकारी दी कि 200.056 एकड़ भूमि का अधिग्रहण भारतीय सेना के तवांग गैरीसन की प्रमुख स्थान योजना इकाइयों के लिए किया गया है।



village



31 जमीन मालिकों को मिली राशि

सरकार द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में जानकारी दी गई कि गांव के 31 जमीन मालिकों में यह राशि वितरित की गई है। सबसे अधिक मुआवजे की राशि, 6,73,29,925 रुपये रही। एक अन्य को 2,44,97,886 रुपये की राशि का चेक दिया गया। अन्य 29 लाभार्थियों को 1,09,03,813 राशि का चेक सौंपा गया है। बोमजा गांव 31 परिवारों में 29 को 1.09 करोड़ रुपये का मुआवजा दिया गया। एक परिवार को 2.45 करोड़ रुपया प्रदान किया गया, जबकि एक परिवार को सबसे ज्यादा 6.73 कारोड़ रुपये का भुगतान किया गया।



Pema-Khandu-620x400




सीएम ने किया ट्वीट

सीएम ने इसे लेकर ट्वीट भी किया जिसमें उन्होंने लिखा कि इस राशि वितरण के बाद बोमजा गांव सबसे अमीर गांवों में से एक बन गया होगा। मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने बताया इस तरह की और मुआवजा राशि को लेकर केंद्र सरकार से बातचीत चल रही है। उन्होंने लंबे समय से लंबित मुआवजा राशि को मंजूरी देने के लिए रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण को भी धन्यवाद दिया।



Untitled



गांव में महज 31 परिवार ही रहते हैं

मुख्यमंत्री पेमा खांडू ने ग्रामीणों को मुआवजा वितरित किया। इसके साथ ही बोमजा एशिया के सबसे धनी गांवों की सूची में शामिल हो गया है। वैसे गुजरात के कच्छ जिले के माढ़ापुर गांव को भारत का सबसे धनी गांव माना जाता है। सीमाई इलाकों में चीन की बढ़ती गतिविधियों को देखते हुए भारत ने भी क्षेत्र में विकास की परियोजनाएं शुरू कर दी हैं।


Bomja-Arunachal-village-named-among-richest-villages-of-Asia




प्रगति की ओर बढ़ रहा अरुणाचल प्रदेश

सीएम ने कहा कि राज्य प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में प्रगति की ओर बढ़ रहा है. उन्होंने कहा, ‘केंद्र की मदद से अरुणाचल प्रदेश तेजी से प्रगति कर रहा है। अरुणाचल को रेल, हवाई मार्ग, डिजिटल और सड़क के जरिए जोड़ने पर भी जोर दिया जा रहा है’। सीएम ने बताया कि तवांग को जल्द ही रेल मार्ग से जोड़ दिया जाएगा।…Next

Read More:

एक नहीं बल्कि तीन बार बिक चुका है ताजमहल, कुतुबमीनार से भी ज्यादा है लंबाई!

सीरिया-इराक से खत्म हो रही IS की सत्ता, तो क्या अब दुनिया भर को बनाएंगे निशाना!

अक्षय ने शहीदों के परिवार को दिया खास तोहफा, साथ में भेजी दिल छू लेने वाली चिट्ठी




Tags:                                                                   

Rate this Article:

0 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 50 votes, average: 0.00 out of 5 (0 votes, average: 0.00 out of 5, rated)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran