ummeed

Just another weblog

16 Posts

26 comments

Saurabh Sharma


Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.

Sort by: Rss Feed

इस चर्चा में आपका भी स्वागत है…

Posted On: 29 Mar, 2014  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

Others में

1 Comment

द ग्रेट इंडियन होली मिलन समारोह

Posted On: 19 Mar, 2014  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

Others में

2 Comments

घर से निकलने पर मर्दों पर बैन लगाओ

Posted On: 24 Jan, 2013  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 4.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

Others में

4 Comments

और इकबाल पास हो गया…

Posted On: 4 Jan, 2013  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

Others में

1 Comment

एक ‘छोटी सी भूल’ की बडी सजा

Posted On: 14 Oct, 2012  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

Others में

2 Comments

गाली देने से पहले फायदे देखो

Posted On: 24 May, 2012  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

Others में

0 Comment

औजार बिरादरी ने किया बहिष्कार

Posted On: 1 Apr, 2012  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

Others में

3 Comments

बिना झूले का बचपन

Posted On: 28 Mar, 2012  
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (3 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

Others में

4 Comments

Page 1 of 212»

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

सबसे पहले आपको बेस्ट ब्लागर की बधाई .अब बात मुद्दे के करें क्या आपको लगता है की केवल वर्तमान सरकार ही जनता से किये वायदे पूरा नहीं कर रही है या इसके पहले भी सरकारें रहीं हैं उन्होंने भी यही किया है आखिर इस सवाल का जवाब तो मिलना ही चाहिए की चुनाव प्रचार के दौरान पार्टियां एवं नेता जो देश की जनता को झूठे सपने दिखा कर, झूठे वायदे करके जनता का वोट प्राप्त कर जीत जाते हैं उनपर किसका नियंत्रण है ? जनता का या चुनाव आयोग का और क्या चुनाव आयोग या जनता इसके लिए कुछ कर पाती है ,भाई साहब यही लोकतंत्र है अतः आगे भी केवल नेता वायदे करेंगे और जीत कर सरकार पर काबिज हो जायेंगे और राज भोगेंगे इसका कुछ नहीं होने वाला क्रिकेट मैच की तरह कभी यद् जीता कभी वह जीता और शील्ड ले गया .

के द्वारा: ashokkumardubey ashokkumardubey

के द्वारा: शालिनी कौशिक एडवोकेट शालिनी कौशिक एडवोकेट

के द्वारा: Saurabh Sharma Saurabh Sharma

के द्वारा: ajaydubeydeoria ajaydubeydeoria




latest from jagran