blogid : 27770 postid : 4

संकट के समय में पीआर कैसे आपके व्यवसाय का समर्थन करता है

Posted On: 29 Jun, 2020 Others में

24x7newswireJust another Jagranjunction Blogs Sites site

Rohit Rajora

3 Posts

0 Comment

व्यापार की दुनिया में लाभ और हानि दोनों ही सामान्य शब्द है। किसी भी तरह का व्यवसाय शुरू करने से पहले आपको भविष्य में होने वाले विभिन्न प्रकार के नुकसान का पूर्वानुमान लगाना होगा या दूरदर्शी बनना होगा। यह प्रत्येक व्यवसाय के मालिक का सबसे दुखद पल है कि वह अपने व्यवसाय के नुकसान की कल्पना करे। हालांकि भविष्य कोई भी नहीं देख सकता है, लेकिन आप अपने आप को अपने व्यवसाय में आने वाली हानि से बचने के लिए तैयार कर सकते हैं। चाहे वह लोगों के बीच अपने व्यवसाय की छवि को बदलना हो या अपने व्यवसाय को हानि से बचाने के लिए तैयार करना हो, जनसंपर्क हमेशा आपका अपराजय योद्धा होगा।

 

 

 

पीआर के बारे में बात करते हुए, एक प्रमुख जनसंपर्क कंपनी के संस्थापक श्री अतुल मलिकराम कहते हैं कि, “पीआर क्षेत्र बहुत विशाल है। कोई भी कंपनी जब एक निश्चित संकट से गुजर रही होती है, तो उसके लिए विशेष रूप से पीआर का समर्थन बहुत आवश्यक हो जाता है। किसी भी कंपनी को सफलता हासिल करने में कई साल लग जाते हैं, लेकिन एक पल ही इन सालों की मेहनत और नाम को बर्बाद कर देता है। ऐसे समय में पीआर ही है जो किसी कंपनी को उसके नुकसान से बाहर निकालने में मदद करता है।”

 

 

वर्तमान में मीडिया ने दुनिया भर में अपनी जड़ें फैला ली हैं। एक शहर से दूसरे शहर तक पलक झपकते ही समाचारों का आदान-प्रदान होता है। जब कोई ब्रांड देश के एक हिस्से में नकारात्मक प्रचार का सामना करता है तो यह दुनिया के हर हिस्से में जंगल की आग की तरह फैलता है। उस समय ब्रांड के नकारात्मक प्रसार को नियंत्रित करना और इससे होने वाले नुकसान की मात्रा को कम करने के लिए जरुरी उपाय करना बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है। यह पीआर है जो क्रमिक रूप से इस नकारात्मक प्रचार पर पैनी नज़र रखने की क्षमता रखता है, मीडिया से सामंजस्य बनाकर सकारात्मक जानकारी देता है। पीआर बाजार में एक ब्रांड की प्रतिष्ठा बनाए रखने के लिए अलग-अलग योजनाओं का निर्माण करता है और उनका एक्सिक्यूशन करता है।

 

 

 

 

डिस्क्लेमर : उपरोक्त विचारों के लिए लेखक स्वयं उत्तरदायी हैं। जागरण जंक्शन किसी भी दावे या आंकड़े की पुष्टि नहीं करता है।

Tags:     

Rate this Article:

  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग