blogid : 17203 postid : 800195

त्रिभाषा -गीत -जय त्रिभाषा जय त्रिभाषा जय त्रिभाषा गान हो |

Posted On: 6 Nov, 2014 Others में

kavita Just another Jagranjunction Blogs weblog

acharyashivprakash

44 Posts

42 Comments

जय त्रिभाषा जय त्रिभाषा जय त्रिभाषा गान हो |
देव वाणी आंग्ल भाषा और उर्दू ज्ञान हो ||

जान लो गुण तीन त्रैभाषा प्रकृति त्रिगुणात्मिका |
ज्ञान औ विज्ञान का भी केंद्र भाषा पर टिका ||
वेद या वेदांत दर्शन संस्कृत है बोलती |
सब बढ़े पढ़कर त्रिभाषा वाइबिल सम्मान हो ||

कृष्ण अल्ला या मसीहा ईस बनकर आये थे |
वाइबिल गीता कुरानों को यहाँ वो गाये थे ||
है दिया उपदेश पावन ईस ने इंसान को |
जानना गर चाहते तो अब त्रिभाषा ध्यान हो ||

तीन वर्णों का तिरंगा देश की पहचान है |
हिन्द में हिंदी व उर्दू भारती की शान है ||
ज्ञान अंग्रेजी जरूरी विश्व की भाषा यही |
संस्कृत है ज्ञान जननी संस्कृत गुणगान हो ||

आचार्य शिवप्रकाश अवस्थी
9412224548

Tags:

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग