blogid : 3412 postid : 307

नव वर्ष तुम्हारा अभिनंदन !!

Posted On: 31 Dec, 2010 Others में

sahity kritiman ke udgaaron ki abhivyakti

alkargupta1

89 Posts

2777 Comments

जागरण टीम के सभी सदस्यों व जागरण जंक्शन के सभी ब्लॉगर्स और इस ब्लॉग के सुधी पाठकों व उनके परिवार के सभी सदस्यों को नव वर्ष की हार्दिक शुभ कामनाएं !! आप सभी के लिए यह वर्ष समृद्धिमय व मंगलमय हो ! सभी की झोलियाँ अपार खुशियों से भर जाएँ !!!!!

 

आओ मिल कर करें स्वागत नव वर्ष का !

अभिनंदन नववर्ष अभिनंदन तुम्हारा !

अपरिमित खुशियाँ लाया द्वार हमार ,

हर्षातिरेक ने किया स्वागत अपार |

गया वर्ष तो बीत गया ……

खट्टे-मीठे अनुभवों से झोली सबकी भर गया |

कमर-तोड़ मँहगाई ने कमाल अपना दिखा दिया

इच्छाओं को सबकी बलि चढ़ा दिया |

दी जा रही थी अग्नि शवों को ,

खोदी जा रहीं थीं कब्रें अनेकों ,

दफनाया जा रहा था मासूमों को ,

जब सजी थी हथियारों से मंडी ,

हो गयी थी तब इंसानियत भी नंगी |

हो रही थी नीलाम अस्मिता नारी की ,

जब खड़ी थी चौराहे पर चौकड़ी राक्षसों की |

ऊँघता-ऊँघता विदा कर रहे गत वर्ष को सभी…..

आओ कर फैला कर दोनों अब

करें स्वागत नव वर्ष का हम सब !

करें जतन कुछ ऐसा कि…………

मिल कर सिमट जाएँ भोर होने से पहले

अँधियारी रातों की सभी यादें |

क्या खोया क्या पाया कल तक ??

अनुभव और सोच यही ,

सवाँर सकते हैं बस वर्तमान अपना

आभास होता रहे यही |

हो प्रसरित सर्वत्र मानवता का धर्म ,

करें प्रण करने का सभी सत्कर्म ,

यही हो जीवन का निष्कर्ष |

कोंपल-कोंपल कली-कली पर छाया वसंत हो ,

कल-कल करती सागर की लहरों पर हो

खग वृन्द की सुरीली ताल !

त्वरित ही बीत जाए अब यह रैन ,

नव रश्मियाँ हो रहीं आने को बेचैन ,

लाएँ ये रश्मियाँ अपने संग आशा औ उमंग,

फले-फूले अंक में लहराए यह नव साल !

हर्षोल्लास से करते हैं स्वागत तुम्हारा !

हे नूतन वर्ष ! अभिनंदन तुम्हारा !

अभिनंदन तुम्हारा !!!!!!!!

**************

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 3.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग