blogid : 3412 postid : 48

स्नेह दीप

Posted On: 4 Nov, 2010 Others में

sahity kritiman ke udgaaron ki abhivyakti

alkargupta1

89 Posts

2777 Comments

deepawali 3deepawali 1दीपावली के इस शुभ अवसर पर जागरण टीम के सभी सदस्यों व जागरण जंक्शन के सभी ब्लागर्स और इस ब्लाग के सुधी पाठकों व उनके परिवार के सभी सदस्यों को मेरी हार्दिक शुभकामनाएं !!!!!! आप सब के लिए दीपावली का यह पर्व समृद्धिमय और मंगलमय हो !!!!!!!!!!!!!!!

deepawali 2

दीप जलाऊँ मैं एक स्नेह दीप जलाऊँ ,
बुझते दीपों में आशा की बाती लगाऊँ |
बैर भाव का कहीं तमस न रह जाए,
रात्रि में भी दिवस का भान हो जाए,
अंतर घट ये कलुषित न होने पाए |
आवली दीपों की सर्वत्र झिलमिलाए
घर आँगन सभी ज्योतिर्मय हो जाएँ!
प्रीति ह्रदय में ऐसी बढ़े कि
टूटते दिल एक जान हो जायँ|
दीप ऐसा जले कि रोशनी से उसकी ,
जुदा दिलों में आस, उजास भर जाय|
एक दीप से असंख्य दीप जलाऊँ मैं,
दीप जलाऊँ स्नेह दीप जलाऊँ !!!!!!!
और ये दीप जलते रहें!!!!!!जलते रहें!!!!!

दीपावली की मंगल कामनाओं के साथ
अलका

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 3.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग