blogid : 8082 postid : 590158

तुम जियो हजारों साल..........

Posted On: 1 Sep, 2013 Others में

राजनीतिनयी सोच नयी क्रांति

ANAND PRAVIN

40 Posts

1401 Comments

जे जे के सम्मानित एवम हम सभी के प्रिय और आदरणीय जनों को जन्मदिन कि हार्दिक शुभकामनाएँ

3sep3-SEP

6 sep6-SEP    7 sep7-SEP

15 sep

15-SEP

सौभाग्य प्रकट करता हूँ मैं की मुझको है यह काम मिला,

आप जनों की ही शिक्षा है जिससे जग में कुछ नाम मिला,

निति सदा सिखाती है नीतिज्ञों का सम्मान रहे,

कुछ भी करने से पहले मर्यादा का ध्यान रहे,

यहाँ मंच पर कुछ चरित्र व्यर्थ प्रलाप भी करते हैं,

कभी – कभी बालक जैसे वो आपस में भी लड़ते हैं,

ना लड़े कोई ऐसे कोई नव-सूत्र का अब निर्माण करें,

बिखराव सरल होता किन्तु आप सबों के दिल जोड़ें,

प्रेम वाटिका के प्रांगन में मधु – मधु ही होते हैं,

जो भौरें भी होते उनमें भी विष थोड़े ही होते हैं,

आप सदा माली रहना ताकि बगिया फुले महके,

हम जैसे नन्हीं तितली इस बगिया में हर दम चहके,

निजी जीवन में खुशियाँ हों जो दिन दुनी और रात बढ़े,

ख्याति तो जग में पहले थी यह ऊपर थोड़ी और चढ़े,

आपके चरणों को छुकर अब दिल की बात बताता हूँ,

अपनी बातों को कहने का मूल अभी समझाता हूँ,

जो भी हो चाहे कठनाई वो हटे और खुशियाँ बनी रहे,

किंतु सबसे जो जरुरी है “यह धार कलम की बनी रहे”

आप सभी आदरणीय मार्गदर्शकों आदरणीय निशा मैंम, आदरणीय शशि सर, आदरणीय अलका मैंम और हम सबके आदरणीय नानाजी प्रदीप सर को  हमारे ओर से जन्मदिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ (एडवांस)

आगे भी प्रेम एवम स्नेह बना रहे

ANAND PRAVIN

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (4 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग