blogid : 5061 postid : 1340394

वो भ्रष्ट तो नहीं है

Posted On: 20 Jun, 2018 Politics में

एक विश्वासएक विश्वास, दुनिया के बदलने का।

Ashok Srivastava

148 Posts

41 Comments

मोदी और चाहे कुछ हो परन्तु भ्रष्ट तो नहीं है। तुच्छ मानसिकता वालों व स्वार्थ मे डूबे हरामखोर लोगों इतना मत गिरो कि मोदी को फेकू बताने के चक्कर में स्वयं ही फेक और फेकू दोनों ही साबित हो जाओ। निकृष्टता के शिरोमणियों अपने अपने बापों की पृष्ठभूमि देख लो कि चीथड़ो से सफर की शुरुआत कर दोगलेपन के हथियार से देश को लूटकर वे सब कैसे बिना काम काज के देश के सबसे धनी बन गए हैं और दलाली इतनी खायी है कि चुनाव के समय आय की घोषणा करते समय पच्चीस प्रतिशत की भी घोषणा में इनकी रूह कांपने लगती है।
गुलाम उल्लुओं कभी समझने का प्रयास करो कि ये पूरी संपत्ति क्यों नहीं घोषित करते हैं?

 

तुम्हारे बाप लोग उसी मोदी के डर से ऐसा नहीं करते हैं जिसको तुम हरामखोर नीच लोग अपने, दोगले गद्दार आकाओं के कहने पर, भ्रष्ट कहते हो। अगर मोदी भ्रष्ट होता तो तुम्हारे पापा जी लोग उसको नोच खाते परन्तु वो जानते हैं कि ऐसा है नहीं। और आरोप प्रत्यारोप की राजनीति से वो सत्ता के कमरे की चाबी हासिल करना चाहते हैं। परन्तु सफलता तो सच झूठ की रस्साकशी में फँसी पड़ी है।
यह बात मोदी के परिवार की स्थिति देख कर साफ हो जाती है। तुम्हारे बापों के पास साइकिल हुआ करती थी और आज वो नीच देश को लूट कर हेलीकॉप्टर के मालिक हैं परन्तु मोदी परिवार साइकिल पर था तो आज भी वहीं है।

अब भौंकना नहीं कि सब दिखावा है क्योंकि सभ्यता के चाण्डालों दिखावा गरीबी का नहीं अमीरी का होता है। कमजोरी का नहीं बाहुबल का होता है मगर तुम यह भी कैसे समझोगे क्योंकि हरामजादे तो कार में घूमेंगे और जब सब्सिडी मिलनी होगी या नौकरी की बात होगी या कोई और बात होगी फायदे की तो गरीबी रेखा के नीचे वाला या जाति नीची बताने वाला या गिरा हुआ धर्म बताने वाला कागज का टुकड़ा लेकर खड़े होगे। धिक्कार है तुम्हारे दोगलेपन पर। नीचों तुम्हारी इन्हीं नीच हरकतों से निष्पक्ष लोग जिनको सिर्फ देश की तरक्की चाहिए वो मोदी के साथ खड़े हो जाते हैं वरना मोदी इतना तो लोकप्रिय नहीं हो सकते थे।

हम शुक्रगुजार हैं तुम्हारे, मेरे देश के गद्दारों, कि तुमने अपनी जात और औकात बता कर हमको एक होने का मौका दिया कि हम गाँधी नेहरू की शुरू की गई गद्दारी की परंपरा को समाप्त करने में अपना योगदान दे सकें। इतिहास गवाह है कि अंततः विजय सत्य की होती है।
तो रावणों कंसों और जेहादियों अपनी चिंता शुरू करो। सोये हुए देशभक्त समुदाय को जगाने के लिए तुम्हारा आभार।

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग