blogid : 1004 postid : 254

'व्‍यंग्‍य का शून्‍यकाल' अविनाश वाचस्‍पति के व्‍यंग्‍य संग्रह का वरिष्‍ठ व्‍यंग्‍यकार डॉ. शेरजंग गर्ग के कर कमलों से विमोचन प्रगति मैदान में सोमवार 27 फरवरी 2012 को : आप सादर आमंत्रित हैं

Posted On: 27 Feb, 2012 Others में

अविनाश वाचस्‍पतिविचारों की स्‍वतंत्र आग ही है ब्‍लॉग

अविनाश वाचस्‍पति अन्‍नाभाई

101 Posts

218 Comments

हिंदी चिट्ठाकारों ने विश्‍व पुस्‍तक मेले में मचा दिया है धमाल : प्रत्‍येक पुस्‍तक का मूल्‍य सिर्फ 99 रुपये : कल होगा 7 पुस्‍तकों का विमोचन : आप भी इस इतिहास के साक्षी बनिए

पुस्‍तक का आवरण चित्र
आप देख चुके हैं
इसे रचनात्‍मक अभिव्‍यक्ति दी है
प्रख्‍यात आवरण चित्रकार
श्री देव प्रकाश चौधरी ने
जिनका ब्‍लॉग का लिंक यह है।

भूमिका लिखी है
व्‍यंग्‍य यात्रा के सुविख्‍यात संपादक
डॉ. प्रेम जनमेजय ने
जिनके हिंदी चिट्ठे का पता यह है।

व्‍यंग्‍य लिखे हैं
कुछ कलम ने
कुछ कीबोर्ड ने
करतब दिखलाय है
कीबोर्ड के खटरागी की ऊंगलियों ने
उनके मानस के निर्देश पर
जिनका चित्र व परिचय
सबसे पीछे के  आवरण पर
प्रकाशित है।

डॉ. शेरंजंग गर्ग

विमोचन प्रगति मैदान में सोमवार 27 फरवरी 2012 को 3.00 बजे हॉल नंबर 6, सम्‍मेलन कक्ष संख्‍या 2 में वरिष्‍ठ व्‍यंग्‍य रचनाकार-साहित्‍यकार डॉ. शेरजंग गर्ग जी के कर-कमलों से संपन्‍न होगा

और ….
सबसे महत्‍वपूर्ण जानकारी
पुस्‍तक की प्रति का मूल्‍य सिर्फ 99 रुपये है
प्रकाशक हैं
ज्‍योतिपर्व प्रकाशन
जिनके सभी प्रकाशन
रुपये 99 केवल में ही उपलब्‍ध हैं
और पेज संख्‍या है
100 से लेकर 200 पेज तक।

खुश हो जाओ हिंदी वालों
चिट्ठाकारों ने प्रकाशन शुरू करके
पुस्‍तकें आपकी जेब की पहुंच में लाने जैसा
क्रांतिकारी कदम उठा दिया है

क्‍या अब भी आप सोचेंगे
कि पसंद आएं किताब तो खरीदें
या न खरीदें ?

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग