blogid : 17843 postid : 765136

कविता

Posted On: 21 Jul, 2014 Others में

शब्द दूतव्यवस्था सड़ी हो तो भ्रष्टाचार पनपता है , अवस्था उघडी हो तो अनाचार पनपता है --- विनोद भगत

विनोद भगत

9 Posts

8 Comments

कविता
कविता

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग