blogid : 25489 postid : 1388222

गठजोड़

Posted On: 14 Jan, 2019 Politics में

Parivartan- Ek LakshyaJust another Jagranjunction Blogs weblog

bnpal

23 Posts

1 Comment

और …..

ये ,

इतनें गठजोड़ .

गाँठें और जोड़ .

कौन झेले इन्हें ?

अच्छी लगती है

सौ मिठाइयों के बीच

एक नमकीन,

सौ यथार्थों के बीच

एक यकीन,

kकौन विश्वास करें –

तुम पर

क्या आश करे —

तुम पर ?

रोज लड़ो गे

रोज झगड़ों गे

हम जनता हैं

भारत की जनता

गठबंधन वधू नहीं

कि रोज खड़ी रहेगी

वरमाला लेकर

तुम्हें बरने !

 

 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग