blogid : 2326 postid : 1312756

संसद में कुत्ता प्रसंग !

Posted On: 8 Feb, 2017 Others में

aaina.सच्चाई छिप नहीं सकती ![लेख /कहानी -कविता/हासपरिहास

brajmohan

199 Posts

262 Comments

प्रकाशनार्थ विज्ञप्ति
——————————————————————————-
राष्ट्रीय कुत्ता महासंघ द्वारा देश-प्रदेशों से आये विभिन्न जाति-प्रजाति के कुत्ता प्रतिनिधियों की वृहत सभा में संसदीय इतिहास में प्रथम बार कुत्ता प्रसंग पर चर्चा की भूरि भूरि प्रशंसा की गयी और देश के नामी गिरामी नेताओं का “तहे पूँछ” से आभार व्यक्त किया गया . माननीय राष्ट्रपति महोदय के अभिभाषण पर बहस के दौरान कुत्ता व्याख्यान की भर्त्सना की गयी .

यद्यपि कुछ कुत्ता संगठनों ने अपनी तुलना नेताओं से किये जाने को कुत्ता समुदाय का अपमान बताया और कहा कि मानव की तुलना में कुत्तों की संमृद्ध परंपरा -इतिहास रहा है . घर -परिवार की सुरछा -शोभा और वफ़ादारी के किस्से-कहानियां मानव इतिहास में अंकित है ,जबकि मानव इतिहास सत्ता संघर्ष -छल-प्रपंच -हिंसा -विद्वेष के रक्तरंजित दस्तावेज है ..


ऱा०कु०म प्रमुख ने कुत्ता समुदाय को संबोधित करते हुए बताया कि संसद में आजादी के लिए शहीद हुए पूज्यनीय मानव क्रांतिकारियों के साथ कुत्तों क़ी भूमिका का उल्लेख यद्यपि कुत्ता समुदाय के लिए गौरव का विषय है ,किन्तु कुत्ता इतिहास -शास्त्र-पुराणों में ऐसा कोई प्रमाण नहीं है . फिर भी आरोप-प्रत्यारोप ,भाषा -संवाद में संसद क़ी कारवाही को कुत्ता स्तर तक पहुँचाने के लिए नेताओं को सम्मानित किये जाने का प्रस्ताव पेश किया गया .


इस प्रस्ताव का कतिपय कुत्ता संगठनों ने कुत्तागिरी करते हुए सभा से बहिर्गमन करने क़ी चेतावनी दे डाली .उन्होंने नेता बनाम कुत्ता प्रकरण पर गली -मोहल्लो में धरना प्रदर्शन किये जाने का एलान कर दिया . वे अपनी तुलना नेताओं से किये जाने से खासे आक्रोशित है . इसे अपनी कुत्ता छवि और गरिमा पर आघात बताया है .समवेत स्वर से मांग क़ी गयी कि संसद क़ी कार्यवाही से कुत्ता प्रसंग को निकाला जाए . और सरकार से अपेछा क़ी गयी कि एंटी रेबीज इंजेक्शन पर तत्काल रोक लगाई जाये ताकि कुत्तो से साथ कुत्तागिरी . करने वालो को सबक मिल सके .

ऱा०कु०म० प्रमुख ने इस अवसर पर आव्हान किया – देश-विदेश के कुत्तो एक हो ,संगठन में ही शक्ति है –आज कुत्तों क़ी गरिमा पर राजनीतिक खतरा मंडरा रहा है ,उनकी अस्मिता से खिलवाड़ किया जा रहा है .प्रख्यात-कुख्यात नेताओं द्वारा अपनी गन्दी राजनीति में कुत्तो को घसीटने का कुत्सित प्रयास किया जा रहा है

अंत में कुत्ताश्री ने सभा में देश विदेश से आये प्रतिनिधियों का आभार व्यक्त किया

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग