blogid : 7002 postid : 655

ये हैं पाकिस्तानी क्रिकेट के ‘काले कारनामे’

Posted On: 29 Jun, 2013 Sports में

क्रिकेट की दुनियाक्रिकेट की हर हलचल पर गहरी नजर के साथ उसके विविध पक्षों को उकेरता ब्लॉग

Cricket

1179 Posts

126 Comments

pakistan cricket 1जिस दक्षिण एशिया में क्रिकेट को धर्म और क्रिकेटरों को आराध्य की तरह पूजा जाता हो वहां जब सट्टेबाजी और भ्रष्टाचार का नाम आता है तो कहीं न कहीं यह विश्वास डगमगाने लगता है कि क्रिकेट और उससे जुड़े खिलाड़ियों को इतना मान-सम्मान देना क्या सही है ?


Read: एसएमएस के जरिए रेल टिकट बुक करवाने के लिए आप टाइप करें


पहले स्पॉट फिक्सिंग की बात से इंकार करने वाले पूर्व पाकिस्तानी कप्तान सलमान बट ने पहली बार सार्वजनिक तौर पर स्वीकार किया है कि वह इंग्लैंड के खिलाफ 2010 की टेस्ट श्रृंखला में एक मैच के दौरान स्पॉट फिक्सिंग में लिप्त थे. उन्होंने अपने इस कृत्य के लिए प्रशंसकों से माफी मांगी है. लाहौर के एक प्रेस कांफ्रेस में सलमान ने तमाम देशवासियों और पूरी दुनिया में मौजूद क्रिकेट प्रेमियों से अपनी गलती पर माफी मांगी.


गौरतलब है कि साल 2010 में पाकिस्तान की टीम जब इंग्लैंड दौरे पर गई थी. उस दौरान न्यूज ऑफ द वर्ल्ड अखबार ने स्टिंग ऑपरेशन के जरिए स्पॉट फिक्सिंग का सनसनीखेज रहस्योद्घाटन किया था. इस खुलासे में सलमान बट, मोहम्मद आमिर और मोहम्मद आसिफ के नाम सामने आए थे. इसके बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने तीन पाकिस्तानी क्रिकेट खिलाड़ियों पर प्रतिबंध लगा दिया था. जांच में इनका नाम आने के बाद इन्हें जेल की सजा सुनाई गई.


Read: बाबरी मस्जिद के दाग इन पर भी पड़े


3 नवंबर, 2011 को इंग्लैंड के लंदन स्थित साउथवर्क क्राउन न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति जेरेमी कुक ने सलमान बट को ढाई साल और मुहम्मद आसिफ को एक साल की सजा सुनाई, जबकि 19 वर्षीय मुहम्मद आमेर को छह महीने की सजा के आदेश दिए.वैसे पूरी दुनिया की अपेक्षा क्रिकेट की सबसे ज्यादा बदनामी दक्षिण एशिया में हुई है और इसका आरंभ पाकिस्तान से माना जाता है. अब तक की घटनाओं को देखते हुए उसकी टीम और बोर्ड पर लगे आरोप इस बात को सही ठहराते हैं.


1. 1994 में श्रीलंका दौरे के दौरान ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने पाकिस्तान के पूर्व कप्तान सलीम मलिक पर आरोप लगाया कि उन्हें मैदान पर अच्छा प्रदर्शन नहीं करने के लिए घूस देने की पेशकश की. जांच के बाद सलीम मलिक पर ज़िंदगी भर के लिए प्रतिबंध लगा दिया गया.

2. गेंदबाज शोएब अख्तर को 2006 में प्रतिबंधित दवा नांड्रोलोन लेने का दोषी पाया गया था. जिसके बाद उनके चैंपियंस ट्रॉफी खेलने पर बैन लगाया गया था.

3. 2007 विश्व कप के दौरान पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के कोच बॉब वूल्मर की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी. उस समय विशेषज्ञ ने दावा किया है कि वूल्मर की हत्या की गई है.

4. श्रीलंकाई क्रिकेट टीम पर 2009 पाकिस्तान के एक स्टेडियम के पास अज्ञात बंदूकधारियों ने हमला किया था जिसमें कम से कम छह क्रिकेटर घायल हो गए और पांच पुलिसकर्मी मारे गए.

5. 31 जनवरी, 2010 को पाकिस्तानी ऑलराउंडर शाहिद अफरीदी पर बॉल से छेड़छाड़ करने के लिए दो ट्वेंटी-20 इंटरनैशनल मैच का बैन लगा दिया गया.

6. पाकिस्तान के अंपायर असद रऊफ के रंगीन मिजाज को कौन भूल सकता है. अपने इसी व्यवहार की वजह से वह कई बार विवाद में फंसे है. हाल ही में रऊफ को आईसीसी ने आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग मामले में शामिल होने के आरोपों के तहत इलीट पैनल से बाहर कर दिया था. आपको बता दें स्पॉट फिक्सिंग के मामले के तहत मुम्बई पुलिस रऊफ के खिलाफ जांच कर रही है.

7. हाल ही में मुल्तान की रहने वाली पाकिस्तान की पांच महिला क्रिकेट खिलाड़ियों ने पाकिस्तान के सीनियर खिलाड़ियों और अधिकारियों पर यौन शोषण करने का आरोप लगाया.


Tags: pakistan cricket, pakistan cricket in hindi, spot fixing, spot fixing in  pakistan cricket team, पाकिस्तान क्रिकेट टीम,  क्रिकेट टीम.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग