blogid : 7002 postid : 1393420

चेतेश्वर पुजारा को क्यों नहीं मिला BCCI का A+ कॉन्ट्रैक्ट, ये है वजह

Posted On: 11 Mar, 2019 Sports में

Shilpi Singh

क्रिकेट की दुनियाक्रिकेट की हर हलचल पर गहरी नजर के साथ उसके विविध पक्षों को उकेरता ब्लॉग

Cricket

1167 Posts

126 Comments

भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ियों के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित क्रिकेट प्रशासकीय कमिटी (सीओए) ने साल 2018-19 के लिए नए सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट का एलान किया। BCCI के ग्रेड ‘ए प्लस’ में सिर्फ तीन खिलाड़ी कप्तान विराट कोहली, रोहित शर्मा और जसप्रीत बुमराह को जगह दी गई। ऑस्ट्रेलिया में भारत के लिए शानदार पारी खेलकर सीरीज जीत में अहम भूमिका निभाने वाले चेतेश्वर पुजारा को ए श्रेणी में रखा गया है। पिछले छह महीने से वनडे में खराब फॉर्म में चल रहे धवन को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज से पहले टेस्ट टीम से भी बाहर कर दिया गया था। भुवनेश्वर का भी सभी फॉर्मेट में खेलना तय नहीं है लिहाजा उन्हें भी एलीट श्रेणी में नहीं रखा गया है।

 

 

 

पृथ्वी शॉ और मयंक अग्रवाल को कॉन्ट्रैक्ट में स्थान नहीं मिला

बाएं हाथ के तेज गेंदबाज खलील अहमद और बल्लेबाज हनुमा विहारी को पहली बार ग्रुप सी के करार दिए गए हैं। वहीं टेस्ट और वनडे में प्रभावी प्रदर्शन करने वाले मयंक अग्रवाल, पृथ्वी शॉ और विजय शंकर को सूची में शामिल नहीं किया गया है। क्योंकि वे तीन टेस्ट या आठ वनडे के बीसीसीआई के मानदंडों पर खरे नहीं उतरते। पिछले साल ए श्रेणी में रहे मुरली विजय और सी श्रेणी में रहे सुरेश रैना को करार नहीं मिले हैं। इक्कीस बरस के पंत पिछले साल की सूची में नहीं थे लेकिन इस साल सीधे ए श्रेणी में प्रवेश किया है। पिछले छह महीने से वनडे में खराब फार्म में चल रहे धवन को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ श्रृंखला से पहले टेस्ट टीम से भी बाहर कर दिया गया था।

 

View this post on Instagram

Aim higher, stay focused.

A post shared by Cheteshwar Pujara (@cheteshwar_pujara) on

 

पुजारा सिर्फ टेस्ट खेलते ​हैं इसलिए उन्हें नहीं मिला ‘A+’ अनुबंध

भुवनेश्वर का भी सभी फार्म में खेलना तय नहीं है लिहाजा उन्हें भी एलीट श्रेणी में नहीं रखा गया है। चेतेश्वर पुजारा को ए श्रेणी में रखा गया है। बोर्ड के एक अधिकारी ने कहा,’पुजारा ने ऑस्ट्रेलिया में अच्छा खेला लेकिन ए प्लस श्रेणी उन लोगों के लिए है जिन्होंने कम से कम दो प्रारूपों में शानदार प्रदर्शन किया हो। पुजारा सिर्फ एक प्रारूप खेलते हैं और ईशांत शर्मा भी लेकिन दोनों ए वर्ग में हैं।’ अजिंक्य रहाणे और कुलदीप यादव भी इसी श्रेणी में हैं। हार्दिक पंड्या और केएल राहुल के साथ उमेश यादव और युजवेंद्र चहल ग्रुप बी में हैं। रिधिमान साहा ग्रुप बी से सी में आ गए हैं।

 

 

अनुबंधित खिलाड़ियों की सूची :

कैटेगरी ए प्लस: विराट कोहली, रोहित शर्मा, जसप्रीत बुमराह।

कैटेगरी ए: एमएस धौनी, चेतेश्वर पुजारा, ऋषभ पंत, आर अश्विन, रविंद्र जडेजा, ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, कुलदीप यादव, शिखर धवन, भुवनेश्वर कुमार, अजिंक्य रहाणे

कैटेगरी बी: के एल राहुल, हार्दिक पंड्या, उमेश यादव, युजवेंद्र चहल।

कैटेगरी सी: केदार जाधव, दिनेश कार्तिक, अंबाती रायुडू, मनीष पांडे, हनुमा विहारी, खलील अहमद, ऋद्धिमान साहा।

 

 

ए-प्लस कैटेगरी में तीनों फॉर्मेट वाले

गौरतलब है कि बीसीसीआई ने सालाना कॉन्ट्रेक्ट में ए-प्लस कैटेगरी उन खिलाड़ियों के लिए बनाई है जो कि भारतीय टीम के लिए तीनों फॉर्मेट खेलते हैं। ऐसे में पुजारा जो कि केवल टेस्ट टीम का हिस्सा हैं, ए-प्लस कैटेगरी के लिए क्वालिफाई नहीं करते हैं।…Next

 

 

Read More:

दूसरे T20 में सीरीज बचाने उतरेगा भारत, मुकाबले के लिए टीम इंडिया में हो सकते है बड़े बदलाव

World Cup 2019: इन भारतीय क्रिकेटर्स का हो सकता है यह आखिरी विश्व कप

साउथ अफ्रीका के 26 वर्षीय तेज गेंदबाज ने लिया संन्यास, इंग्लिश काउंटी की तरफ दिखाया प्यार

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग