blogid : 7002 postid : 1382781

दक्षिण अफ्रीका में इतिहास रच सकती है टीम इंडिया, ODI के इस रिकॉर्ड से चलता है पता

Posted On: 1 Feb, 2018 Sports में

क्रिकेट की दुनियाक्रिकेट की हर हलचल पर गहरी नजर के साथ उसके विविध पक्षों को उकेरता ब्लॉग

Cricket

902 Posts

126 Comments

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच आज (गुरुवार) से वनडे सीरीज शुरू होगी। इससे पहले हुई टेस्‍ट सीरीज के तीसरे मैच में जीत दर्ज करने वाली टीम इंडिया वनडे सीरीज में बढ़े मनोबल के साथ मैदान पर उतरेगी। वनडे सीरीज जीतकर भारतीय टीम एक नया इतिहास रच सकती है। मगर इसके लिए उसे पूरे दमखम के साथ मैदान पर उतरना पड़ेगा। क्‍योंकि दक्षिण अफ्रीका की सरजमीं पर टेस्‍ट सीरीज में भारतीय टीम का प्रदर्शन बेहतर नहीं रहा। हालांकि, वनडे में धोनी की मौजूदगी से भारतीय टीम को और भी कॉन्फिडेंस मिलेगा। आइये आपको बताते हैं कि भारतीय टीम कौन सा इतिहास रचेगी और कैसा रहा है उसका रिकॉर्ड।


team india


एक भी द्विपक्षीय सीरीज में नहीं मिली जीत

दरअसल, भारत को अब तक साउथ अफ्रीका की धरती पर एक भी द्विपक्षीय वनडे सीरीज में जीत नहीं मिली है। टीम इंडिया दक्षिण अफ्रीका में अपनी पहली द्विपक्षीय वनडे सीरीज जीतकर इतिहास रचने की कोशिश करेगी। भारत को इससे पहले यहां खेली गई चार द्विपक्षीय सीरीज में हार का सामना करना पड़ा है। भारत ने दो बार यहां ट्राइएंगल सीरीज में भी हिस्सा लिया, जिसमें तीसरी टीम जिम्बाब्वे और कीनिया थी, तब भी दक्षिण अफ्रीका ही चैंपियन बना था। इतना ही नहीं, भारत का दक्षिण अफ्रीका में द्विपक्षीय सीरीज में रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है। भारत ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ उसकी सरजमीं पर 28 मैच खेले हैं, जिनमें से केवल पांच में उसे जीत मिली, जबकि 21 मैच में हार का सामना करना पड़ा।


india vs south africa


डरबन में जीत से बदल जाएगा इतिहास

इस सीरीज का आगाज डरबन के किंग्समीड मैदान में हो रहा है। यह वो मैदान है, जहां भारत को कभी भी मेजबान टीम को हराने में कामयाबी नहीं मिली। सन् 1992-93 में भारत के साउथ अफ्रीका दौरे से लेकर अब तक, इस मैदान पर दोनों देशों के बीच कुल सात मैच खेले गए, जिनमें छह में भारत को हार मिली, जबकि एक का परिणाम नहीं निकला। हालांकि, 2003 विश्व कप के दौरान भारत ने यहां इंग्लैंड और कीनिया को हराया था। आखिरी बार भारत ने इस मैदान पर साल 2013 में वनडे मुकाबला खेला था, जहां मेजबान टीम ने उसे 134 रनों से हराया था। 2006 में भारत की टीम यहां मात्र 91 रन पर ऑलआउट हो गई थी, जो इस मैदान पर अब तक का सबसे कम स्कोर है। इस बार टीम इंडिया डरबन में जीत दर्जकर मेजबान टीम से कभी न जीतने का इतिहास बदल सकती है।


CRICKET-ODI-LKA-IND/


टॉप पर पहुंच जाएगी टीम इंडिया

इसके अलावा इस सीरीज में अच्छा प्रदर्शन करके वनडे टीम रैंकिंग में शीर्ष स्थान हासिल करने पर भी भारतीय टीम की निगाह होगी। भारत अगर 4-2 से सीरीज जीत लेता है, तो टॉप पर काबिज दक्षिण अफ्रीका को नीचे कर टॉप पर पहुंच जाएगा। दोनों टीमों के बीच अभी केवल दो रेटिंग अंकों का अंतर है। पिछले वर्षों का वनडे रिकॉर्ड देखें, तो जनवरी 2016 में आस्ट्रेलिया से 1-4 से सीरीज गंवाने के बाद टीम इंडिया ने वनडे की एक भी द्विपक्षीय सीरीज नहीं हारी है। यदि इस रिकॉर्ड को टीम इंडिया बरकरार रख लेगी, तो साउथ अफ्रीका में मेजबान टीम से द्विपक्षीय सीरीज न जीतने के इतिहास को बदल देगी…Next


Read More:

IPL के इन 5 खिलाड़ियों ने आज तक नहीं बदली टीम
U-19 विश्‍व कप की चैंपियन बनेगी भारतीय टीम! ये 6 कारण कर रहे इस ओर इशारा
सलमान खान की वो रिश्‍तेदार, जिसे हो गया था क्रिकेटर से प्‍यार


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग