blogid : 7002 postid : 1390980

पूर्व क्रिकेटर संगकारा ने बताई भारत की गलती, बोले केवल विराट पर निर्भर नहीं है टीम

Posted On: 16 Aug, 2018 Sports में

Shilpi Singh

क्रिकेट की दुनियाक्रिकेट की हर हलचल पर गहरी नजर के साथ उसके विविध पक्षों को उकेरता ब्लॉग

Cricket

1179 Posts

126 Comments

इंग्लैंड के दौरे पर गई टीम इंडिया के टेस्ट बल्लेबाजों पर लोग लगातार फटकार लगा रहे हैं। साथ ही 2 टेस्ट मैचों के बाद भारतीय क्रिकेट बोर्ड भी उनसे खुश नहीं दिख रहा है। लेकिन, श्रीलंका के पूर्व कप्तान और महान टेस्ट बल्लेबाजों में शामिल कुमार संगकारा ने भारतीय बल्लेबाजों की ताकरीफ की है। उनका मानना ​​है कि यह कहना गलत है कि भारतीय क्रिकेट टीम कप्तान विराट कोहली पर ज्यादा निर्भर है।

 

 

पुजारा,राहुल और रहाणे भी शानदार हैं

संगकारा ने पीटीआई से कहा, ‘यह अन्य बल्लेबाजों के लिए लगभग अनुचित है। क्योंकि हमने पिछले कुछ वर्षों से विराट को ऐसी बल्लेबाजी करते देखा है। यह अविश्वसनीय सा है और वह एक अविश्वसनीय खिलाड़ी है, लेकिन टीम के दूसरे खिलाड़ी भी शानदार हैं’। ‘पुजारा और रहाणे भी अच्छे बल्लेबाज हैं। पुजारा का टेस्ट क्रिकेट में आसत 50 का है, रहाणे का भी विदेशों में 50 का औसत है। टीम में लोकेश राहुल भी हैं, जो फार्म में होते हैं तो शानदार खेलते हैं। मुरली विजय, शिखर धवन, दिनेश कार्तिक को भी कमतर नहीं आंका जा सकता’।

 

 

भारत को कम अभ्यास का खामियाजा भुगतना पड़ा

टेस्ट श्रृंखला से पहले भारतीय टीम ने सिर्फ एक अभ्यास मैच खेला था जिसे तीन दिनों का किये जाने पर विवाद भी हुआ। संगकारा का मानना है कि भारत को कम अभ्यास का खामियाजा भुगतना पड़ा है। उन्होंने कहा, ‘टीम ने यहां संघर्ष किया है जिसकी एक वजह तैयारियों में कमी हो सकती है। इसलिए उन्हें वास्तव में कड़ी मेहनत करने की आवश्यकता है क्योंकि आप टेस्ट मैचों में खेलते समय तैयारी नहीं कर सकते हैं। आपको अभ्यास मैचों और प्रशिक्षण के दौरान इंग्लैंड के गेंदबाजों का तोड़ ढूंढ कर अपना आत्मविश्वास बढ़ाना होगा।’

 

 

चयन नहीं कर पा रही है टीम

संगकारा ने कहा, ‘इंग्लैंड के गेंदबाजों ने उपमहाद्वीप की टीमों की कमजोरी का फायदा उठाया है, जिसने भारतीय खिलाड़ियों के लिए जवाब से अधिक सवाल खड़े किये’। पूर्व श्रीलंकाई कप्तान ने इसके लिए हालात और टीम चयन को जिम्मेदार बताया। संगकारा ने कहा, ‘लॉर्डस के मैच के लिए भारत को बर्मिंघम की टीम के साथ ही उतरना चाहिए था, या उसी गेंदबाजी आक्रमण के साथ (धवन की जगह पुजारा को शामिल करने के अलावा)। हार्दिक की जगह टीम एक अतिरिक्त बल्लेबाज या गेंदबाज को उतार सकती थी।…Next

 

 

Read More:

टीम इंडिया के पांच बड़े खिलाड़ी वनडे में हिट, लेकिन टेस्ट में हुए फेल

अफरीदी से मोहम्मद शमी तक, इन क्रिकेटरों के रहे हैं एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर्स

एशिया के बाहर पिछले 5 सालों से फ्लॉप हैं धवन, बना पाए हैं केवल एक शतक

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग