blogid : 7002 postid : 1391688

पृथ्वी शॉ ने डेब्यू सीरीज में की सौरव गांगुली की बराबरी, ऐसा करने वाले 10वें खिलाड़ी

Posted On: 15 Oct, 2018 Sports में

Shilpi Singh

क्रिकेट की दुनियाक्रिकेट की हर हलचल पर गहरी नजर के साथ उसके विविध पक्षों को उकेरता ब्लॉग

Cricket

1177 Posts

126 Comments

टीम इंडिया के उभरते सितारे पृथ्वी शॉ को भले ही इंग्लैंड के दौरे पर मौका न मिला हो, लेकिन वेस्टइंडीज के खिलाफ चल रहे टेस्ट में उन्होंने शानदार खेल दिखाया है। भारत और वेस्टइंडीज के बीच खेली गई टेस्ट सीरीज में भारत ने 2-0 से जीत हासिल की है। इस सीरीज के लिए पृथ्वी शॉ को ‘मैन ऑफ द सीरीज’ चुना गया। पृथ्वी शानदार प्रदर्शन करते हुए पहले मैच में शतक और दूसरे मैच में अर्धशतक जड़ा, उन्होंने हैदराबाद टेस्ट मैच की दूसरी पारी में नाबाद 33 रन भी बनाए। इस तरह उन्होंने पदार्पण सीरीज में खुद को बेहतर साबित किया। पृथ्वी ने इस सीरीज में सौरव गांगुली, माइकल क्लार्क और रोहित शर्मा जैसे खिलाड़ियों की बराबरी कर ली।

 

 

डेब्यू सीरीज में की सौरव गांगुली की बराबरी

युवा ओपनर पृथ्वी शॉ ने अपनी बल्लेबाजी से पहली सीरीज में सबको हैरान कर दिया। ‘मैन ऑफ द सीरीज’ का खिताब जीतकर उन्होंने दिग्गज सौरव गांगुली की बराबरी कर ली। टेस्ट डेब्यू पर यह खिताब हासिल करने वाले पृथ्वी कुल चौथे जबकि तीसरे भारतीय बल्लेबाज हैं। साल 1996 में इंग्लैंड के खिलाफ पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने ऐसा किया था।

 

 

पृथ्वी डेब्यू सीरीज में मैन ऑफ द सीरीज चुने गए

दरअसल पृथ्वी डेब्यू सीरीज में ‘मैन ऑफ द सीरीज’ चुने जाने वाले 10वें खिलाड़ी हैं। उनसे पहले सौरव गांगुली, माइकल क्लार्क, रोहित शर्मा, रविचन्द्रन अश्विन और मेहदी हसन जैसे खिलाड़ी मैन ऑफ द सीरीज चुने जा सकते हैं। गांगुली ने 1996 में, क्लार्क ने 2006 में, अजंता मेंडिस ने 2008 में, रोहित शर्मा ने 2013 में और रविचन्द्रन अश्वि ने 2011 में यह उपलब्धि हासिल की थी। इनके अलावा वेर्नोन फिलैंडर और जेम्स पैटिनसन भी यह मुकाम हासिल कर चुके हैं।

 

 

छोटे पृथ्‍वी का बड़ा कमाल

दो मैचों की टेस्‍ट सीरीज में 118.50 के औसत से 237 रन बनाने वाले शॉ ने यह कारनामा 18 साल 339 दिन की उम्र में किया है। हालांकि इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे कम उम्र में चौका लगाने का रिकॉर्ड ऑस्‍ट्रेलिया के पैट कमिंस के नाम है, जिन्‍होंने साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2011 में 18 साल 198 दिन की उम्र में ऐसा किया था। हालांकि वेस्‍टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्‍ट में 134 रन और दूसरे टेस्‍ट में 70 और नाबाद 33 रन की पारियां खेलकर शॉ ने जता दिया है कि वो टीम इंडिया के लिए लंबी रेस का घोड़ा साबित हो सकते हैं।

 

 

मैच फिनिश करना मेरे लिए बड़ी बात

‘मैन ऑफ द सीरीज’ चुने जाने के बाद पृथ्वी ने कहा, यह मेरे लिए खुशी का पल है। टीम इंडिया के लिए मैच फिनिश करना मेरे लिए बड़ी बात है। यह मेरी पहली सीरीज थी और इसमें 2-0 से जीत हासिल करना और फिर मैन ऑफ द सीरीज चुने जाना बेहद खास है। यहां हर खिलाड़ी परिवार की तरह रहे, किसी के बीच जूनियर या सीनियर भावना नहीं रही। यह मेरे लिए काफी अच्छा रहा और अब मेरा ध्यान आगे बढ़ने की ओर है। मुझे यह नहीं पता है कि आगे क्या होने वाला है, इसलिए मैं इस पल को इन्जॉय करना चाहता हूं।…Next

 

Read More:

मौहम्मद कैफ से लेकर अगरकर तक इन 5 क्रिकेटरों ने की दूसरे धर्म में शादी

ये 5 क्रिकेटर्स कर चुके हैं दो बार शादी, विवादों से भरी है इनकी लाइफ

विराट की पहली पसंद अनुष्का नहीं ये एक्ट्रेस थी, आज हैं वो इस अभिनेता की पत्नी

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग