blogid : 7002 postid : 1391956

आज के दिन रोहित बने थे ‘हिटमैन’, 264 रनों की पारी में लगाई थी 42 बाउंड्री

Posted On: 13 Nov, 2018 Sports में

Shilpi Singh

क्रिकेट की दुनियाक्रिकेट की हर हलचल पर गहरी नजर के साथ उसके विविध पक्षों को उकेरता ब्लॉग

Cricket

1179 Posts

126 Comments

खेल के मैदान पर आए दिन कोई न कोई रिकॉर्ड बनता ही रहता है और भारतीय टीम के ओपनर रोहित शर्मा भी रिकॉर्ड बनाने और तोड़ने के मामले में अपना नाम आगे रखते हैं। ऐसे में रोहित शर्मा के लिए आज का दिन यानि 13 नवंबर 2014 का दिन भारतीय बल्लेबाज रोहित शर्मा के लिए कभी नहीं भूलने वाला है। यह वो दिन था, जब क्रिकेट इतिहास में एक नया कीर्तिमान रचा गया। भारत-श्रीलंका के बीच कोलकाता के र्इडन गार्डन में खेले जा रहे वनडे मैच में रोहित ने वो कारनामा  का जिसका सपना हर बड़ा बल्लेबाज देखता है। तो, चलिए जानते हैं आखिर रोहित ने कैसे बनाया था ये रिकॉर्ड।

 

 

चार रन पर छूटा था कैच

रोहित ने श्रीलंका के खिलाफ भले ही शानदार पारी खेली हो लेकिन अजिंक्य रहाणे और रोहित शर्मा ओपनिंग करने आए थे और  रोहित ने इरंगा की बाहर निकलती गेंद पर शॉट खेला और गेंद रोहित के बल्ले का बाहरी किनारा लेते हुए थर्ड मैन पर खड़े थिसारा परेरा के हाथों में जा रही थी। यह कैच बेहद आसान था मगर उस दिन किस्मत शायद रोहित के साथ थी। उस वक्त रोहित सिर्फ चार रन पर खेल रहे थे मगर परेरा के हाथों से वो कैच छूट गया और फिर दुनिया ने वनडे इतिहास की सबसे बड़ी पारी देखी।

 

 

चौके-छक्के से बनाए 182 रन

रोहित शर्मा ने 264 रन की इस पारी में 182 रन तो सिर्फ चौके-छक्के से बनाए थे। ऐसा कोर्इ गेंदबाज नहीं था जिसकी रोहित ने पिटार्इ नहीं की। हिटमैन रोहित के बल्ले से कुल 33 चौके और 9 छक्के निकले थे। ओपनिंग में आए रोहित उस दिन 50वें ओवर में आउट हुए थे।

 

 

72 गेंदों में पूरा किया 50 रन

इस मुकाबले में रोहित शर्मा ने आराम से शुरुआत की और पहला पचास बनाने के लिए 72 गेंदों का सामना किया। उस वक्त खेल का 23वां ओवर चल रहा था। इस 50 रन की पारी में हिटमैन के बल्ले से केवल 5 चौके निकले। इस अर्धशतक के बाद तो मानो रोहित एक अलग अंदाज में नजर आने लगे।

 

 

100 गेंद में सैकड़ा

अर्धशतक के बाद रोहित ने अगले 50 रन बनाने के लिए केवल 28 गेंद ही खेली 32वें ओवर की पहली गेंद पर जब रोहित ने एक रन लिया तो ईडन गार्डन में तालियों के शोर ने इस खिलाड़ी की शानदार पारी को जमकर सराहा। हालांकि, असली पिक्चर तो अभी बाकी थी।

 

 

अगली 73 गेंदें 164 रन और इतिहास

ईडन गार्डन में बैठे हर खेल प्रेमी के लिए ये दिन शायद सबसे यादगार रहा होगा, जब हर गेंद पर रोहित का कमाल देखने को मिलता होगा। 72 गेंदों में 50 रन बनाने वाले रोहित ने शतक के बाद कुल 73 गेंदें खेली और 164 रनों का और इजाफा किया। उनकी इस पारी की बदौलत भारत ने 404 रनों का लक्ष्य श्रीलंका को दिया था।

 

 

पूरी श्रीलंकार्इ टीम नहीं बना पार्इ थी रोहित के बराबर रन

रोहित की 264 रन की पारी इसलिए भी खास मानी जाती है क्योंकि उस दिन पूरी श्रीलंकार्इ टीम मिलकर भी रोहित के बराबर रन नहीं बना पार्इ थी। 404 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी श्रीलंका टीम 44वें आेवर में सिर्फ 251 रन पर ऑलआउट हो गर्इ। यानी रोहित ने अकेले श्रीलंकार्इ टीम से 13 रन ज्यादा बनाए थे। वनडे क्रिकेट में रोहित के नाम तीन दोहरे शतक हैं। ऐसा करने वाले वह दुनिया के इकलौते खिलाड़ी हैं। वहीं सचिन तेंदुलकर, वीरेंद्र सहवाग, क्रिस गेल और मार्टिन गप्‍टिल के नाम वनडे में दोहरे शतक बनाने का रिकॉर्ड है।…Next

 

Read More:

बॉल आउट से मशहूर हुए थे रॉबिन उथप्पा, पत्नी शीतल है टेनिस खिलाड़ी

2018 में रिलीज हुई दिग्गज क्रिकेटरों की ऑटोबायोग्राफी, लिस्ट में सबसे ज्यादा भारतीय

एक वनडे मैच में सबसे ज्यादा रन लुटाने वाले गेंदबाज, लिस्ट में भारतीय भी शामिल

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 1.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग