blogid : 7002 postid : 1385391

टीम इंडिया के वो 5 धाकड़ बल्लेबाज, जो नंबर-4 पर रहे सबसे ज्यादा कामयाब

Posted On: 18 Feb, 2018 Sports में

क्रिकेट की दुनियाक्रिकेट की हर हलचल पर गहरी नजर के साथ उसके विविध पक्षों को उकेरता ब्लॉग

Cricket

1176 Posts

126 Comments

क्रिकेट मैच में हर नंबर के खिलाड़ी का अपना-अपना महत्‍व होता है। कुछ ऐसे खिलाड़ी होते हैं, जो एक खास नंबर पर बल्‍लेबजी करने आते हैं और उसी नंबर पर हिट हो जाते हैं। वहीं, कुछ ऐसे खिलाड़ी भी हुए, जिन्‍होंने लगभग हर क्रम पर बल्‍लेबाजी की। हालांकि, 4 नंबर पर बल्लेबाजी करना काफी दिलचस्प होता है। इस नंबर के बल्लेबाजों को टॉप ऑर्डर बल्लेबाजों के प्रदर्शन के हिसाब से ख़ुद को ढालना होता है। कई बार ऐसा होता हैं, जब नंबर-4 के बल्लेबाज को संभलकर खेलना पड़ता है, तो कई बार उसे आक्रामक बल्लेबाजी भी करनी पड़ती है। आइये आपको टीम इंडिया के उन पांच बल्लेबाजों के बारे में बता रहे हैं, जो नंबर 4 पर बल्लेबाजी में सबसे ज्‍यादा कामयाब रहे।


cover


1. दिलीप वेंगसरकर

1980 के दशक में गावस्कर और कपिल क्रमश: टॉप और लोअर ऑर्डर के चैंपियन बल्लेबाज थे, तो दिलीप वेंगसरकर मिडिल ऑर्डर के आधार थे। अपने 15 साल के लंबे अंतरराष्ट्रीय कॅरियर में वेंगसरकर ने 120 वनडे मैच खेले, जिसमें उन्होंने 71 बार नंबर-4 पर बल्लेबाजी की। इस दौरान उन्होंने 37.51 की औसत से 2138 रन बनाए थे। वनडे कॅरियर में दिलीप की बल्लेबाजी का औसत 34.73 रहा है, जो नंबर-4 पर बल्लेबाजी के आंकड़े से कम है।

Vengsarkar E861051

2. मोहम्मद अजहरुद्दीन

मोहम्मद अजहरुद्दीन 1990 के दशक में टीम इंडिया के कप्तान थे। वे टीम के 2 विकेट गिरने पर बल्लेबाजी करने आते थे। अपने वनडे कॅरियर में उन्होंने 137 बार नंबर-4 पर बल्लेबाजी की है। इस दौरान उन्होंने 40.39 की औसत से 4605 रन बनाए हैं, जो उनके करियर के एवरेज (36.92) से ज्‍यादा है।


mohammed-azharuddin-m

3. सचिन तेंदुलकर

क्रिकेट के रिकॉर्ड की बात हो और सचिन तेंदुलकर का नाम न आए, ऐसा शायद ही हो। सचिन ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट कॅरियर में ज्‍यादातर ओपनिंग की है। मगर जब सचिन ने अपना वनडे कॅरियर शुरू किया था, तब वे मध्य क्रम में ही बल्लेबाज़ी करते थे। सन् 1994 में वे टीम इंडिया के टॉप ऑर्डर बल्लेबाज बन गए थे। उन्होंने 61 वनडे मैच में नंबर-4 पर बल्लेबाजी की, जिसमें उन्होंने 2059 रन बनाए। इस दौरान उनका औसत 38.85 रहा। हांलाकि, ये आंकड़े सचिन की महानता को बताने के लिए काफी नहीं हैं। वे जब तक टीम इंडिया के सदस्य रहे, टीम को नई ऊंचाई हासिल हुई है।

sachin-pakistan-m


4. राहुल द्रविड़

राहुल द्रविड़ टीम इंडिया के मिडिल ऑर्डर के आधार बन गए थे। अपने वनडे कॅरियर में द्रविड़ ने 344 मैचों की 318 पारियों में 39.14 की औसत से 10,889 रन बनाए। वहीं, 102 बार नंबर-4 पर बल्लेबाज़ी की, जिसमें 3301 रन बनाए। द्रविड़ ने कई नाजुक मौके पर टीम इंडिया को मुश्किलों से निकाला है। ‘द वॉल’ कहे जाने वाले द्रविड़ आज अंडर-19 टीम इंडिया के कोच हैं।

973488273-rahuldravid_6


5. युवराज सिंह


yuvraj-for-featered-image-list


युवराज सिंह ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आईसीसी नॉकआउट टूर्नामेंट में अपने वनडे कॅरियर की शुरुआत की थी। इसके बाद वो टीम इंडिया के सबसे कंसिस्टेंट मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज बन गए थे। युवराज ने 278 वनडे पारियां खेली हैं, जिसमें 108 बार नंबर-4 पर बल्लेबाजी की है। इस दौरान उनका औसत 35.21 और स्ट्राइक रेट 90 के आसपास रहा। युवराज वनडे कॅरियर का बेस्ट स्कोर 150 है, जो उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ नंबर-4 पर बैटिंग करते हुए बनाया था।…Next


Read More:

अफ्रीका में जीत की हैट्रिक के साथ टूटे ये रिकॉर्ड, ये रहे मैच के हीरो

कुंबले ने आज के दिन तोड़ी थी पाक टीम की कमर, बनाया था ऐतिहासिक रिकॉर्ड

U-19 वर्ल्‍डकप फाइनल में अभी तक इन 5 खिलाड़ियों ने ठोके हैं शतक

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग