blogid : 7002 postid : 1375867

युवराज को याद आई अपनी धमाकेदार पारी, इस तरह शेयर की फीलिंग

Posted On: 20 Dec, 2017 Sports में

क्रिकेट की दुनियाक्रिकेट की हर हलचल पर गहरी नजर के साथ उसके विविध पक्षों को उकेरता ब्लॉग

Cricket

1179 Posts

126 Comments

अगर आपने ‘महेंद्र सिंह धोनी: द अनटोल्‍ड स्‍टोरी’ फिल्‍म देखी होगी, तो आपको वो सीन जरूर याद होगा, जिसमें धोनी का किरदार निभाने वाले सुशांत सिंह अपने दोस्‍तों को अंडर-19 कूच बिहार ट्रॉफी के बारे में बताते हैं। फिल्‍म में धोनी यानी सुशांत कहते हैं… ”तो दूसरे दिन हम आउट हो गए 84 रन पे, पूरा टीम आउट हो गया 357 रन पे, पंजाब बैटिंग करने आता है, उनका पहला विकेट गिरता है 60 पे, फिर बैटिंग करने आता है युवराज सिंह। दूसरे दिन के बाद का स्कोर 108/1, पूरे तीसरे दिन में उनका सिर्फ एक ही विकेट गिरता है। तीसरे दिन के एंड का स्कोर 431/2, युवराज सिंह डबल सेंचुरी। बहुत मारा, धागा खोल दिया एक दम। आखिरी दिन डे फोर, पंजाब का टोटल स्कोर 839, युवराज के अकेले का स्कोर 358, बिहार का टोटल स्कोर से 1 रन ज्यादा। हमको सेकेंड इनिंग ही नहीं मिला”। आपको बता दें कि यह काल्‍पनिक नहीं, बल्कि वास्‍तविक घटना है, जिस यादगार पारी को युवी ने याद किया है।


yuvraj singh


ट्विटर पर शेयर की फोटो


yuvraj singh1


दरअसल, युवराज सिंह ने ट्विटर पर अपनी एक फोटो शेयर की है। इस फोटो में वे ट्रॉफी लेते नजर आ रहे हैं। कैप्शन में युवी ने लिखा है कि ‘आज ही के दिन 18 साल पहले… 358 रन। युवी की इसी पारी ने उन्हें अंडर-19 वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया में जगह दिलाई थी। युवी ने यह पारी टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की टीम (बिहार) के खिलाफ 1999 में कूच बिहार ट्रॉफी के फाइनल में खेली थी। इस मैच में धोनी की टीम ने पहली पारी में 142.3 ओवर में सभी विकेट खोकर 357 रन बनाए थे, जिसमें धोनी के 84 रन थे। जवाब में युवी की टीम ने 222 ओवर में 5 विकेट खोकर 839 रन बनाए थे।


डबल सेंचुरी तक नहीं लगाया था सिक्‍स


Yuvraj Singh12


इस मैच के तुरंत बाद अंडर-19 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम का चयन होना था। युवराज इस टीम में सेलेक्‍ट होना चाहते थे। इसी वजह से उन्होंने अपनी डबल सेंचुरी पूरी होने तक एक भी छक्का नहीं लगाया, जिससे उनकी बल्‍लेबाजी में गंभीरता दिखे। इससे यह संदेश दिया कि वे टिककर खेल सकते हैं। यह फाइनल मैच जमशेदपुर के कीनन स्टेडियम में खेला गया था।


विरोधी टीम से ज्यादा थे युवराज के रन


yuvraj singh and dhoni


इस पारी की खासबात यह थी कि धोनी की पूरी टीम जितना रन बना पाई थी, उससे 1 रन ज्‍यादा अकेले युवराज ने ही बना दिए थे। सिक्‍सर किंग युवराज सिंह ने 406 गेंदों में 358 रनों की पारी खेली थी। इसमें 40 चौके और 6 छक्के लगाए थे। इस मैच में युवराज के अलावा पंजाब की टीम के वी महाजन ने नॉट आउट 204 रनों की पारी खेली थी…Next


Read More:

सनी लियोनी ने बाहुबली की ‘देवसेना’ को छोड़ा पीछे, एक फिल्म के लिए मांगे इतने करोड़!
फनी हैं इन स्टार क्रिकेटरों के निक नेम, जानें किसने रखा किसका नाम
T-20, वनडे और टेस्ट में धोनी समेत ये हैं दुनिया के 5 सबसे सफल कप्तान

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग