blogid : 2940 postid : 711

बीवी की बेवफाई, पागलखाने की कहानी : 2 Story in Hindi Font

Posted On: 8 Mar, 2013 Others में

Dating Tipsजिन्दगी का महकता गुलदस्ता

admin

213 Posts

691 Comments

फिर आई एक और 15 मई मेरी मैरिज एनीवर्सरी. मैंने और कोमल ने अपने सारे पडोसियों को रात के डिनर के लिए बुलाया. बेहतरीन खाना, हल्की बियर और डांस पार्टी के बीच सभी इंजॉय कर रहे थे. इसी बीच मैंने पहली बार ललित और कोमल को आपस में बात करते देखा लेकिन इसे एक रेग्यूलर टॉक समझ मैं पार्टी में मस्त हो गया. पार्टी रात करीब 1 बजे खत्म हुई. सभी लोग चले गए, रह गए तो मैं और कोमल कुछ उसी तरह जैसे शादी के बाद सभी मेहमान चले जाते हैं और कमरे में अकेले रह जाते हैं पति और पत्नी.

कहानी (Story) का प्रथम भाग यहां पढ़े: HINDI LOVE STORY- PART 1



हमारी जिंदगी बेहद खुशनुमा बीत रही थी कि इसी बीच एक दिन मुझे किसी काम से बैंग्लोर जाने का ऑडर आया. रात करीब दो बजे की मेरी फ्लाइट थी. कोमल के साथ डिनर कर घर से ही कैब कर मैं एयरपोर्ट के लिए रवाना हुआ. बीच में मुझे कोमल का फोन भी आया कि मैं पहुंचा कि नहीं. मैंने कहा कि हां मैं बस एयरपोर्ट पहुंच गया हूं.


किस का किस्सा: Love Tips in Hindi


इसके बाद उससे जल्दी आने का वादा कर मैंने फोन काट दिया. एयरपोर्ट पहुंच कर मैं रुटीन चैकअप के लिए लाइन में लगा ही था कि मुझे बॉस का फोन आया कि जिस क्लाइंट से मिलना है उसके घर किसी की डेथ हो गई है इसलिए मैं घर फ्लाइट ना लूं. मैं वापस घर की तरफ निकला. घर की तरफ जाते समय मैंने कोमल को फोन नहीं किया. मैंने सोचा वापस जाकर उसे सरप्राइज दूंगा लेकिन मुझे क्या पता था कि वहां जाकर मैं खुद सरप्राइज हो जाऊंगा.


अकसर घर देर से आने और कोमल की गहरी नींद की वजह से कमरे की एक चाबी में अपने पास रखता था. मैंने सोचा कि कोमल सो रही होगी और इसलिए उसे डिस्टर्ब करना गलत होगा और मैंने चाबी से घर का दरवाजा खोला. लेकिन जैसे ही मैं कमरे में दाखिल हुआ मेरे पांवो तले जमीन खिसक गई.


एक लड़की क्या चाहती है: Love Tips in Hindi


कमरे में कोमल के अलावा किसी दूसरे शख्स की भी आवाज थी. और शायद मैं इस आवाज को पहचानता था. यह आवाज ललित की थी. जैसे ही मैं बेडरुम की तरफ बढ़ा तो मेरा दिल धक्क-सा रह गया.


कमरे में कोमल ललित की बांहो में थी. वह कोमल जिसके लिए मैंने अपने परिवार से अलग एकल रहने का निर्णय लिया था. वह कोमल जिसके साथ मैंने एक तरह से प्रेम विवाह किया था. यह सब देखकर तो मेरा एक पल को मन हुआ कि मैं उसी वक्त किचन में पड़े चाकू से कोमल की हत्या कर दूं लेकिन उस वक्त कोमल को चौंका कर मैं उसे पछताने का मौका नहीं देना चाहता था. मैं दबे पांव कमरे से बाहर आ गया. तीन कमरों के अपने ही फ्लैट से अजनबी और पराया होकर जाने के दर्द को मेरी आंखे संभाल ना सकी. उस पूरी रात मैंने रोड़ के किनारे चलते चलते बिताई और एक ऐसा फैसला किया जो बेहद भयानक था.

शादी करने से पहले अजमाएं यह टिप्स

पहली डेट के लिए कुछ खास टिप्स : First Dating Tips

एक कंजूस प्रेमी का प्‍यार : kanjoos boyfriend love



Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (76 votes, average: 3.28 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग