blogid : 3738 postid : 572315

कैदी को जेल में ही जन्मदिन की बधाई ( संजय दत्त)

Posted On: 29 Jul, 2013 Bollywood में

Special Daysव्रत-त्यौहार, सितारों के जन्म दिन, राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय महत्व के घोषित दिनों पर आधारित ब्लॉग

महत्वपूर्ण दिवस

1021 Posts

2135 Comments

sanjay dattबॉलीवुड में नायक से खलनायक के रूप में अपनी पहचान बना चुके संजय दत्त आज अपना 54वां जन्मदिन मना रहे हैं. मशहूर माता-पिता की संतान के रूप में जन्म लेने वाले संजय दत्त फिल्मी पर्दे के एक ऐसे अभिनेता हैं जिनकी असल जिंदगी भी फिल्मों से कम नहीं है. उन्होंने बीते तीस साल में बहुत कुछ देखा है. वह पिता के सहयोग से अभिनेता बने, 1993 सीरियल बम ब्लास्ट में मामले में आरोप लगा, इस दौरान वे चार बार जेल गए, उन्होंने दो बार शादी की, दो बच्चों के पिता बने, अनगिनत बार अदालती कार्यवाहियों का सामना किया और इन सबके बीच अपने पिता और माता को भी खोया.


संजय दत्त का जन्म

संजय दत्त मशहूर अभिनेता सुनील दत्त और अभिनेत्री नरगिस के बेटे हैं. 29 जुलाई, 1959 को जन्में संजय दत्त ने अपनी पढ़ाई लॉरेंस स्कूल, सानवार से की. संजय दत्त की बहन प्रिया दत्त हैं जो अब राजनीति में सक्रिय हैं और उनकी एक और बहन नम्रता दत्त हैं जिन्होंने अभिनेता कुमार गौरव से शादी की है. संजय दत्त अपने माता-पिता के बड़े दुलारे थे क्यूंकि वह अपने भाई-बहनों में सबसे बड़े थे. संजय दत्त के जीवन में उनके पिता सुनील दत्त का बहुत बड़ा रोल है. संजय दत्त के कॅरियर को संवारना हो या कानूनी पचड़े से निकालना, हर जगह उनके पिता ने ही उन्हें सहारा दिया. संजय दत्त भी अपने पिता का बड़ा मान रखते थे.


Read: कैदी नंबर 16656 और 2728 हाजिर हों


संजय दत्त का फिल्मी कॅरियर

संजय दत्त ने 13 साल की उम्र में ही फिल्म “रेशमा और शेरा” में एक बाल कलाकार की भूमिका निभाई थी. संजय दत्त ने इसके बाद 1981 में फिल्म “रॉकी” से अपने फिल्मी कॅरियर की शुरुआत की. 1990 में आई फिल्म “सड़क” और “खून का कर्ज” भी हिट साबित हुई थीं लेकिन साल 1991 में आई फिल्म “साजन” में उनके अभिनय को सराहना के साथ फिल्मफेयर का नामांकन भी मिला. फिर वह साल आया जिसने संजय दत्त की जिंदगी को पूरी तरह बदल दिया.


नायक से खलनायक !

मुंबई में 1993 सीरियल बम ब्लास्ट के मामले में संजय दत्त को एके 56 राइफल रखने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. उन पर दाउद गिरोह से हथियार लेने के आरोप लगे थे. कहा गया कि संजय दत्त ने दाउद के भाई अनीस को फोन कर ये हथियार मंगाए. हालांकि बाद में संजय दत्त ने एक एके 56 राइफल रखी और बाकी लौटा दी. उन्हें पुलिस ने टाडा के तहत गिरफ्तार किया था. 12 मार्च, 1993 को मुंबई में 12 जगहों पर हुए धमाकों में 257 लोगों की मृत्यु हुई थी और करीब 700 लोग घायल हुए थे. इस हमले में 28 करोड़ की संपत्ति बर्बाद हुई थी.


जेल में जन्मदिन

संजय दत्त टाडा के तहत अवैध रूप से हथियार रखने के जुर्म में 18 महीने की सजा पहले ही काट चुके हैं. फिलहाल वह अपने बची हुई सजा पुणे की यरवदा जेल में काट रहे हैं. संजय दत्त ने हाल ही में सुप्रीम कोर्ट के सामने क्यूरेटिव पिटीशन रखा था जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया. यह कोर्ट के सामने अपील का एक अंतिम मौका था. अब किसी भी हाल में संजय दत्त को सजा काटनी ही होगी. फिलहाल संजय दत्त जेल में ही अपना जन्मदिन मना रहे हैं. तमाम फिल्मी सितारे और निर्देशक उन्हें जेल में ही जन्मदिन की बधाई दे रहे हैं.


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (4 votes, average: 4.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग