blogid : 3738 postid : 2726

Ayesha Jhulka Profile : गुमनामी के अंधेरे में खोई आएशा जुल्का

Posted On: 28 Jul, 2012 Others में

Special Daysव्रत-त्यौहार, सितारों के जन्म दिन, राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय महत्व के घोषित दिनों पर आधारित ब्लॉग

महत्वपूर्ण दिवस

1021 Posts

2135 Comments

ayesha jhulkaऐसा माना जाता है कि बॉलीवुड की किसी भी अभिनेत्री का अभिनय के तौर पर एक्सपाइरी डेट आठ से दस साल का होता है. इन दस सालों में कुछ अभिनेत्रियां अपनी बेहतरीन अभिनय की बदौलत दर्शकों के दिलों पर राज कर जाती हैं तो कुछ गुमनामी के अंधेरे खो जाती हैं. ऐसे ही एक अभिनेत्री हैं आएशा जुल्का जिनका आज जन्मदिन है.


28 जुलाई, 1975 को श्रीनगर, कश्मीर में जन्मी आएशा जुल्का के पिता एयर फोर्स में थे. जब आएशा 12 साल की थीं तो उनका परिवार दिल्ली में आकर बस गया. आएशा जुल्का ने दिल्ली के लोरेटो कॉंवेंट स्कूल (Loreto Convent) से अपनी पढ़ाई पूरी की और दिल्ली से ही ग्रेजुएशन भी की. आएशा जुल्का ने बिजनेसमैन समीर वासी (Sameer Vashi) से शादी की है.


आएशा जुल्का : फिल्मी कॅरियर

बचपन से ही आएशा को फिल्मों में काम करने का बहुत शौक था. साल 1998 में आएशा जुल्का ने पहली बार फिल्म ‘कैसे कैसे लोग’ में काम किया जो एक सफल फिल्म तो नहीं थी पर इस फिल्म ने उनके अभिनय को पहचान जरूर दिला दी.


एक अभिनेत्री के तौर पर उन्होंने पहली बार फिल्म “मीत मेरे मन का” में काम किया जो एक फ्लॉप फिल्म रही थी. लेकिन सलमान खान के साथ 1991 में उन्होंने “कुर्बान” की जो एक हिट फिल्म साबित हुई थी और 1992 में आई फिल्म “जो जीता वही सिकंदर” में उन्होंने आमिर खान के साथ काम करके अपने कॅरियर को बहुत जल्दी शिखर तक पहुंचा दिया.


साल 1992 में ही आएशा जुल्का और अक्षय कुमार की जोड़ी फिल्म “खिलाड़ी” में एक साथ नजर आई थी. दोनों की जोड़ी को दर्शकों ने खूब सराहा. देखते ही देखते आएशा जुल्का और अक्षय कुमार के प्यार के चर्चे लोगों के बीच आम हो गए. आएशा और अक्षय कुमार की जोड़ी फिल्म “वक्त हमारा है” में भी एक साथ दिखी थी.


आएशा जुल्का ने फिल्म ‘रंग’, ‘दलाल’, ‘मासूम’ जैसी सफल फिल्मों में भी काम किया है. लेकिन फिल्म ‘दलाल’ के दौरान वह बहुत विवाद में फंस गईं. यह फिल्म बहुत सफल रही थी पर फिल्म के दौरान कई जगह आएशा के स्थान पर उनकी तरह दिखने वाली अभिनेत्री से कुछ गरमागर्म दृश्य फिल्माए गए थे जिनका असर आएशा जुल्का की छवि पर पड़ा. विवाद कोर्ट तक भी गया. इस फिल्म के बाद आएशा जुल्का का कॅरियर बहुत तेजी से नीचे गिरा.


‘वक्त हमारा है’ और ‘मेहरबान’ उनकी आखिरी सफल फिल्में मानी जा सकती हैं जिसमें उन्होंने लीड रोल निभाया था. गलत निर्देशकों का चयन आएशा जुल्का के कॅरियर को ले डूबा. हाल के सालों में आएशा जुल्का ‘रन’, ‘चाची 420’, ‘कोहराम’, ‘सोचा ना था’, ‘उमराव जान’ जैसी फिल्मों में चरित्र किरदार में नजर आईं. किसी जमाने की सुपरहिट हिरोइन के लिए छोटे और सह अभिनेत्री के किरदार निभाना कितना मुश्किल होता है यह शायद आएशा जुल्का अच्छी तरह समझती हों.


सफल होना और सफलता को बनाए रखना दोनों ही अलग बात होती है और दोनों को कर पाना हर किसी के बस की बात नहीं होती. बॉलिवुड की चकाचौंध को भी संभाल पाना सबके बस की बात नहीं है. हाल के सालों में भूमिका चावला, ग्रेसी सिंह, नगमा जैसी अभिनेत्रियों का भी यही हाल रहा है.


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 1.50 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग