blogid : 3738 postid : 1012

ग्रेसी सिंह : जन्मदिन विशेषांक (Gracy Singh's Profile)

Posted On: 20 Jul, 2011 Others में

Special Daysव्रत-त्यौहार, सितारों के जन्म दिन, राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय महत्व के घोषित दिनों पर आधारित ब्लॉग

महत्वपूर्ण दिवस

1021 Posts

2135 Comments


बॉलिवुड में सफल होना बहुत मुश्किल है और सफलता को एक लंबे अर्से तक कायम रख पाना इससे भी मुश्किल काम है. हिन्दी फिल्मों की सफल अभिनेत्री होने और लंबे समय तक सफल बने रहने में बहुत अंतर होता हैं. अभिनेत्री ग्रेसी सिंह इस अंतर को अच्छी तरह से जानती हैं. “लगान” और “मुन्नाभाई एमबीबीएस” जैसी सफल फिल्में करने वाली ग्रेसी सिंह ने अपने कॅरियर को उस दिशा में आगे नहीं बढ़ाया.


gracy-singh-picsग्रेसी सिंह का जीवन


ग्रेसी सिंह का जन्म 20 जुलाई, 1980 को दिल्ली में हुआ था. उनके पिता स्वर्ण सिंह दिल्ली में एक बड़ी प्राइवेट कंपनी में ऊंचे पद पर हैं, मां वरजिंदर कौर टीचर हैं. बचपन में मां-पिता की इच्छा थी कि खूब पढ़-लिखकर ग्रेसी सिंह इंजीनियर या डाक्टर बनें. लेकिन पढ़ाई के बाद ही वह मॉडलिंग में आ गईं.


शुरुआती भागदौड़ के बाद उन्हें टीवी शो “अमानत” में लीड रोल मिल गया. “अमानत” की शूटिंग के दौरान ही उन्होंने फिल्म “लगान” का स्क्रीन टेस्ट दिया और बाद में उन्हें इस फिल्म के लिए चयन भी कर लिया गया. “लगान” से पहले ग्रेसी सिंह फिल्म “हम दिल दे चुके सनम” में भी एक छोटी सी भूमिका निभा चुकी थीं लेकिन “लगान” में पहली बार वह लीड रोल में नजर आईं.


Gracy Singhआमिर खान स्टारर “लगान” एक सुपरहिट फिल्म साबित हुई. फिल्म की सफलता ने ग्रेसी सिंह को बॉलिवुड में खास पहचान दिला दी. सीधी-सादी व्यक्तित्व वाली ग्रेसी सिंह बॉलिवुड की अन्य अभिनेत्रियों से हटकर हैं. वह फिल्मों में अंगप्रदर्शन की जगह अभिनय को तरहीज देती हैं. और शायद यही वजह भी रही कि उन्हें ज्यादा फिल्मकारों ने अपनी फिल्मों में काम नहीं दिया.


लगान के बाद फिल्म “मुन्ना भाई एमबीबीएस” में उन्हें बतौर हीरोइन लिया गया. यह फिल्म भी एक सुपरहिट फिल्म साबित हुई. “लगान” और “मुन्ना भाई एमबीबीएस” जैसी फिल्मों ने ग्रेसी सिंह को एक हिट हिरोइन बना दिया.


इसके अलावा ग्रेसी सिंह ने ‘अरमान’, ‘मुस्कान’, ‘शर्त’, ‘वजह’ जैसी फ्लॉप फिल्मों में भी अभिनय किया. शुरुआती कामयाबी को ग्रेसी सिंह अधिक समय तक बरकरार नहीं रख पाईं. हिन्दी फिल्मों के साथ-साथ उन्होंने कई अन्य भाषाई फिल्मों में भी कार्य किया है. 2003 में आई “गंगाजल” में भी ग्रेसी सिंह के अभिनय की सराहना हुई. यह उनकी आखिरी सफल फिल्म कही जा सकती है क्यूंकि इसके बाद तो उन्होंने अधिकतर फ्लॉप फिल्में ही की हैं.


ग्रेसी सिंह एक सफल अभिनेत्री होने के साथ एक बेमिसाल डांसर भी हैं. उम्मीद है आने वाले सालों में ग्रेसी सिंह फिर अपने कॅरियर को उड़ान देंगी. लेकिन जिस जज्बे से उन्होंने फिल्मकारों को एक्सपोज करने से मना किया है वह दर्शाता है कि वह कितना जुझारू अभिनेत्री हैं. ग्रेसी सिंह ने अब तक जितना भी नाम कमाया है वह अपने अभिनय के दम पर कमाया है.


ग्रेसी सिंह की ज्योतिषीय विवरणिका देखने के लिए यहां क्लिक करें.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग