blogid : 3738 postid : 2953

कुमार शानू: रॉक म्यूजिक से अलग संगीतकार

Posted On: 23 Sep, 2012 Others में

Special Daysव्रत-त्यौहार, सितारों के जन्म दिन, राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय महत्व के घोषित दिनों पर आधारित ब्लॉग

महत्वपूर्ण दिवस

1021 Posts

2135 Comments

Kumar Sanu Profile

सुर की सही समझ को संगीत का नाम दिया जाता है और कहा जाता है कि संगीतकार वही है जिसे सुर की सही समझ हो और जिसका संगीत सुनने पर व्यक्ति सुकून का अहसास कर सके. लता मांगेशकर, मो. रफी, मुकेश, किशोर जैसे गायकों ने हमेशा ही ऐसे गाने गाए जो लोगों के दिल को सुकून देते रहे. लेकिन हाल के सालों में गायक पश्चिमी संगीत के दीवाने हो गए हैं. फिर भी कुछ संगीतकार ऐसे हैं जिनकी आवाज से एक खास सा सुकून मिलता है. ऐसे ही एक संगीतकार हैं कुमार शानू(Kumar Sanu)


कुमार शानू: किशोर कुमार के फैन्स

kumar sanuकिशोर कुमार के फैन्स की कमी नहीं है पर किशोर कुमार के ऐसे फैन बहुत कम हैं जो किशोर कुमार के संगीत के रास्ते पर चलते हों. उन्हीं में से एक हैं कुमार शानू (Kumar Sanu)जो किशोर कुमार को अपना आदर्श मानते हैं और उन्हीं के रास्ते पर चलकर अपनी संगीत की कला को जारी रखे हुए हैं. कुमार शानू(Kumar Sanu) ने हिन्दी सिनेमा में ऐसा स्थान बनाया है जहां उन्हें दूसरा किशोर कुमार कहा जाता है.


Kumar Sanu Personal Life

कुमार शानू का जीवन

कुमार शानू (Kumar Sanu)की गायिकी की एक खासियत है कि वह सभी तरह के गाने गाने में माहिर हैं. साथ ही उनकी आवाज की मधुरता दिल को सुकून भी देती है. आशिकी और साजन जैसी फिल्मों के गीतों से शुरुआत कर कुमार शानू ने बॉलिवुड में जगह बनाया. हालांकि आज के दौर में उनके गाने बहुत कम ही सुने जाते हैं फिर भी संगीत प्रेमियों के दिलों में कुमार शानू का एक अलग ही स्थान है.


Read: kishore kumar profile


कोलकाता में 20 अक्टूबर, 1957 को जन्मे कुमार शानू (Kumar Sanu)का वास्तविक नाम केदारनाथ भट्टाचार्य है. उनके पिता पाशुपति भट्टाचार्य एक संगीतकार थे. कुमार शानू ने संगीत के गुण अपने पिता से ही सीखे थे.


Kumar Sanu Career

कुमार शानू का कॅरियर

1979 में कलकत्ता यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की डिग्री लेने के बाद कुमार शानू ने स्टेज शो करने शुरू कर दिए. 1987 में मशहूर गायक जगजीत सिंह ने उनका गाना सुन उन्हें फिल्मों में ब्रेक दिया. फिल्म “आंधियां” के साथ कुमार शानू ने अपने कॅरियर की शुरुआत की. इसी समय उनसे गीतकार कल्याणजी और आनंदजी मिले जिन्होंने कुमार शानू को नाम बदलने की सलाह दी. और यहीं से शुरुआत हुई गायक कुमार शानू के कॅरियर की.


करीब 350 से अधिक फिल्मों के लिए गा चुके कुमार शानू को सफलता वर्ष 1990 में बनी आशिकी फिल्म से मिली जिसके गीत सुपरहिट हुए और कुमार शानू लोकप्रियता के शिखर पर पहुंच गए. फिल्म के गानों में कुमार शानू ने ऐसा जादू बिखेरा कि सब उनके दीवाने हो गए. 17,000 से अधिक गाने गाने वाले कुमार शानू ने एक दिन में 28 गाने रिकॉर्ड कर अपना नाम गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज करवाया है. अपने कॅरियर में कुमार शानू ने लगभग सभी बड़े निर्माताओं की फिल्मों में गाने गाए हैं. कुमार शानू ने दिल का रिश्ता”, “कयामत”, “अंदाज”, “बेवफाऔर नो एंट्रीजैसी फिल्मों में भी गाने गाए हैं.


Kumar Sanu Award List

कुमार शानू: फिल्मफेयर अवार्ड

इस फिल्म के गाने अब तेरे बिन जी लेंगे हमके लिए उन्हें फिल्मफेयर सर्वश्रेष्ठ पार्श्वगायक का अवार्ड मिला. इसके बाद लगातार पांच साल तक उन्हें यह खिताब मिला. “साजन”, “दीवाना”, ”बाजीगर” और “1942 लव स्टोरी” में उनके गानों को फिल्मफेयर सम्मान मिला.


कुमार शानू को साल 2009 में भारत सरकार द्वारा पद्मश्री से नवाजा गया था. कुमार शानू के गाने आज भी लोग उसी तरह सुनते हैं जैसा कभी 90 के दशक में सुनते थे. सबको उम्मीद है कि आज के कनफोड़ू संगीत की दुनिया में दुबारा से मिठास घोलने के लिए कुमार शानू(Kumar Sanu) जल्द ही कुछ गाने लाएंगे.


कुमार शानू के कुछ बेहतरीन गाने

अब तेरे बिन जी लेंगे हम – फिल्म “आशिकी”

मेरा दिल भी कितना पागल है – फिल्म “साजन”

तुम्हें अपना बनाने की कसम खाई है – फिल्म “सड़क”

सोचेंगे तुम्हें प्यार करें की नहीं – फिल्म “दीवाना”

ये काली काली आंखें – फिल्म “बाजीगर”

घूंघट की आड़ में – फिल्म “हम हैं राही प्यार के”

एक लड़की को देखा तो – फिल्म “1942 लव स्टोरी”


Tags: Kumar Sanu Profile,Kumar Sanu Award List, Kumar Sanu Career,कुमार शानू, Kumar Sanu Biography


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग