blogid : 3738 postid : 584770

Saira Banu: दिलीप कुमार की साया हैं ‘सायरा’

Posted On: 23 Aug, 2013 Others में

Special Daysव्रत-त्यौहार, सितारों के जन्म दिन, राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय महत्व के घोषित दिनों पर आधारित ब्लॉग

महत्वपूर्ण दिवस

1021 Posts

2135 Comments

फिल्म जंगली से बॉलीवुड में कदम रखने वाली सायरा बानो के बारे ऐसा कहा जाता है कि लोग उन्हें अभिनय की वजह से कम उनकी खूबसूरती की वजह से  ज्यादा पहचानते हैं. जब पहली बार उन्हें पर्दे पर देखा गया तब हर कोई उनकी खूबसूरती और मोहक अदा का कायल हो गया था. इन सबके बावजूद हर किसी के मन में यह सवाल उठता है कि खूबसूरती की मूरत सायरा बानो ने आखिरकार क्यों अपने से दोगुनी उम्र के अभिनेता से शादी की?


शम्मी कपूर पर अपनी खूबसूरती और चुलबुलेपन से जादू करने वाली सायरा दिलीप कुमार की पत्नी हैं. जब दोनों की शादी हुई उस समय दिलीप कुमार 44 जबकि सायरा बानो 22 साल की थीं.


Read: टेस्ट क्रिकेट है तो ‘क्रिकेट’ है


अपनी शादी को लेकर सायरा बानो का मानना है कि जब वह लंदन से छुट्टियां मनाने भारत आईं तो वह दिलीप कुमार की फिल्मों की शूटिंग देखने घंटों स्टूडियो में बैठी रहती थीं. सायरा बानो ने एक साक्षात्कार में माना कि जब वह बारह साल की थीं तभी से वह दुआ करती थीं काश! उनका विवाह दिलीप कुमार के साथ हो जाए. वह आगे कहती हैं कि जब उन्होंने फिल्मों में काम करना शुरू किया तो वह दिलीप कुमार से मिलने लगीं. दिलीप कुमार इसी दौरान उनके करीब आने लगे.


हालांकि सायरा बानो जिस समय फिल्मों में सफलता का स्वाद चख रही थीं उसी समय उनके दिल में जुबली कुमार अर्थात राजेन्द्र कुमार भी थे लेकिन किस्मत को कुछ और ही मंजूर था. शायद इसके पीछे दिलीप कुमार का स्टारडम भी कहा जा सकता है. जिस समय सायरा बानो ने अपने फिल्मी कॅरियर की शुरुआत की उस समय तक दिलीप कुमार भारतीय फिल्म इंडस्ट्री के बहुत बड़े सितारे थे. ऐसे में सायरा बानो को अपनी कॅरियर की उंचाई देने के लिए दिलीप कुमार से दिल लगाना ही था.


लेकिन कुछ फिल्मी जानकार इस तरह की खबरों को बेबुनियाद बताते हैं. इसको एक घटना से समझा जा सकता है. ऐसी खबरे थीं कि एक समय दिलीप-सायरा के बीच अस्मां नामक एक खूबसूरत महिला आकर खड़ी हो गई. खबरों के अनुसार 30 मई, 1980 को उसने बंगलौर में दिलीप कुमार से शादी की. समय रहते दिलीप साहब ने उससे छुटकारा पा लिया, लेकिन तीन साल तक वे झूठ बोलते रहे कि उनकी कोई दूसरी शादी नहीं हुई है. ऐसा माना जाता है कि दिलीप साहब के दिल में पिता कहलाने की एक ललक थी, जिसे वे शायद अस्मां के जरिये पूरी करना चाहते थे. लेकिन इस विकट परिस्थितियों में भी सायरा ने दिलीप का साथ नहीं छोड़ा.


बॉलीवुड में तमाम अफवाहों और खबरों के बीच भी सायरा बानो और दिलीप कुमार की जोड़ी को आदर्श माना जाता है. सायरा एक साये की तरह हैं जो आज दिलीप कुमार के साथ हर परिस्थितियों में खड़ी दिखाई देती हैं.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 3.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग