blogid : 14395 postid : 5

मेरे यार यही प्यार है...

Posted On: 14 Feb, 2013 Others में

बोलती चुप..जब कुछ कहने को दिल करे ...

deveshsharma

9 Posts

35 Comments

बहुत कुछ कहने को दिल करे और जुबां खामोश हो जाये।
दिल बहुत सी बातें करें, नजरें भी उसके संग हो जायें
मौसम में रंग दिखने लगें और
हवाओं में महक सी घुल जाये,
कभी वेवजह की बातों पर हंसी आए
और कभी झट से आंखे भीग जायें,
बहुत कुछ कहने को दिल करे और जुबां खामोश हो जाये।

किसी की खामोशी धड़कनें थमने की वजह
और मुस्कुराना दिल का सुकूं हो जाये
उसके एक बार देखने से दिन मुकम्मल हो
और जो न देखे तो दिन में सांझ हो जाए
अजीब सा सुकुन हो दिल में
या ऐसी हलचल की किसी सूरत न चैन आये,
बहुत कुछ कहने को दिल करे और जुबां खामोश हो जाये।

लगे की यही वो धड़कन है जिसे दिल ढूंढ रहा था,
लगे कि यही वो खामोशी है जिसे लव बोल रहे थे,
लगे कि यही तो वो जिदंगी जिसे ‘‘मै‘‘ जी रहा था,
लगे कि उम्र जो गुजरी और जो गुजरेगी
बस इसी एक लम्हे में समा जाये,
लगे कि बस अब कुछ और न हो
बस एक ‘‘हां‘‘ और जिंदगी यही थम जाये
बहुत कुछ कहने को दिल करे और जुबां खामोश हो जाये।

चाहतें बस एक ही चाहत में जब सिमट आयें,
रुके कदम और दिल उसकी ओर चलता जाये,
भीड़ हो जहां भर की लेकिन बस एक ही चेहरा नजर आये,
होश में रहके भी दिल पे बेहोशी सी छा जाए,
बहुत कुछ कहने को दिल करे और जुबां खामोश हो जाये।

दोस्त तुम्हारा नाम लेके जब हंसने लगें,,
‘‘गया काम से ये तो‘‘ के जुमले कसने लगें,
कोई कहे कि बकवास है, टाइमपास है, अरे ये बेकार है
तो समझ लेना मेरे यार यही प्यार है…

आज मौका भी इस प्यार का इजहार कर देना
एक गुलाब से क्या होगा
अपने प्यार से अपने यार का दामन भर देना।।

देवेश शर्मा

Tags:     

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग