blogid : 3085 postid : 186

मेरी प्यारी बेटी

Posted On: 5 Jan, 2011 Others में

पहचानखुद से, जिंदगी से और खुशियों से

div81

56 Posts

1643 Comments

IMG_6768_600

मेरे आँचल में ही छुप के

मेरी डांट से बच जाती थी

मेरी चुनरी ओढ़ वो

अपना रूप सजाती थी

मेरे ही कदमो में पाँव रख

चलने को ललचाती थी

उंगली पकड़ के जब वो चलती थी

मेरे ही गुण वो गाती थी

आदर्श हूँ  मैं उसकी

ये सोच के मैं इतराती थी

mother-daughter

वक़्त बदला उम्र बदली,

सोच ने नया आकर लिया

मेरी बेटी मुझको अब

ओल्ड फैशन कहती है

साथ चलाना तो दूर वो मुझसे

बात भी नहीं अब करती है

डिस्को पब की रौनक बन वो

घर की मर्यादा भंग करती है

समझाने पर उसको

आँखे फाड़े तकती है

जाने किस चिड़ियाघर में फँस गयी हूँ

अपने को २१ वी सदी का कहती है

sd

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (9 votes, average: 4.56 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग