blogid : 319 postid : 1360369

मेरे पास मां है... हिन्दी सिनेमा की वो दुखियारी मां जिनकी असल जिंदगी भी दर्दभरी थी

Posted On: 13 Oct, 2017 Bollywood में

खजाना मस्तीजब हों अकेले और उदास कर लें थोड़ी मस्ती से मुलाकात

Entertainment Blog

2043 Posts

669 Comments

‘आज मेरे पास बिल्डिंग है, प्रॉपटी है, बैंक बैलेंस हैं, बंगला है, गाड़ी है. क्या.. क्या है तुम्हारे पास?’

मेरे पास मां है.

अमिताभ बच्चन और शशि कपूर का ये एपिक डायलॉग जो आज दशकों बाद भी फैंस की जुबां पर चढ़ा हुआ है. ‘दीवार’ फिल्म में मां थी निरूपा रॉय. जिनके बारे में कहा जाता है कि हिन्दी सिनेमा की ऐसी मां जिनके एक-एक डायलॉग में ममता छलकती थी. वहीं फिल्मों में रोल ऐसा कि ज्यादातर रोने में ही जिंदगी कट जाती थी. निरूपा रॉय की इसी नेचुरल एक्टिंग के लिए उन्हें हिन्दी सिनेमा की मां कहा जाने लगा.

13 अक्टूबर 2004 को निरूपा हमेशा के लिए दुनिया को अलविदा कह गई. आपको जानकर हैराने होगी कि निरूपा की जैसी रील लाइफ में नजर आती थी, उनकी रीयल लाइफ भी काफी हद तक ऐसी ही थी.


nirupa




15 साल की उम्र में हो गई थी शादी

केवल 15 साल की उम्र में उनकी शादी कमल रॉय से हो गई थी. शादी के बाद वो मुम्बई चली गई थी. वहां उन्हें एक अखबार में एक विज्ञापन दिखा. जिसमें लिखा था ‘कलाकार चाहिए’. उन्होंने अपना प्रोफाइल भेजा और उन्हें चुन लिया गया.


nirupa roy


देवी का रोल करते-करते लोग समझने लगे थे देवी माता

उनकी पहली हिंदी फिल्म थी अमर राजा. जिसमें त्रिलोक कपूर उनके हीरो थे. उनके साथ निरूपा की जोड़ी इतनी जमी कि उन्होंने त्रिलोक के साथ कुल 18 फिल्मों में काम किया. शुरूआती फिल्मों में उन्हें देवी का किरदार मिला. 1951 में निरूपा रॉय की फिल्म ‘हर हर महादेव’ प्रदर्शित हुई. इस फिल्म में उन्होंने देवी पार्वती की भूमिका निभाई. फिल्म की सफलता के बाद वह दर्शकों के बीच देवी के रूप में प्रसिद्ध हो गयी. इसी दौरान उन्होंने फिल्म ‘वीर भीमसेन’ में द्रौपदी का किरदार मिला. एक से रोल करने की वजह से लोग उन्हें असली में देवी समझने लगे और उनसे मिलने के लिए घर तक आ जाया करते थे.


nirupa 2


मौत से पहले बेटों ने शुरू किया था प्रॉपटी विवाद

निरूपा रॉय की जिंदगी के आखिरी साल बड़े ही दुख में बीते थे. उनके दोनों बेटे योगेश रॉय और किरण रॉय उनकी दौलत के लिए लड़ते रहे. मीडिया खबरों की मानें तो उनपर प्रॉपटी लेने का भूत इस कदर सवार था कि वो अपनी मां से भी बदतमीजी कर दिया करते थे. इसी वजह से आखिरी सालों में निरूपा तनाव में रहने लगी थी. उनके मरने के बाद दोनों बेटे उनके घर को लेकर अदालत में पहुंच गए थे. …Next





Read More:

सलमान के साथ डेब्यू करके रातोंरात हिट हुई थी ये अभिनेत्री, योगा टीचर से हुई है शादी

हर फिक्र को धुएं में उड़ाने वाले देवानंद ने सुरैया के प्यार में की थी सुसाइड की कोशिश!

आलिया भट्ट के पिता से लेकर सैफ की पहली पत्नी तक, प्यार के लिए इन सितारों ने छोड़ा अपना धर्म

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग