blogid : 319 postid : 1396434

कुमार गौरव और विजेता पंडित की लव स्टोरी में ‘खलनायक’ बन गए संजय दत्त! एक फिल्म ने दोनों को बना दिया था स्टार

Posted On: 11 Jul, 2019 Bollywood में

Pratima Jaiswal

खजाना मस्तीजब हों अकेले और उदास कर लें थोड़ी मस्ती से मुलाकात

Entertainment Blog

2727 Posts

670 Comments

80 के दशक में पर्दे पर आई थी फिल्म ‘लवस्टोरी’ । इस अल्हड़-सी प्रेम कहानी ने सभी को दीवाना बना दिया था। युवाओं के बीच इस फिल्म का इतना क्रेज था कि कुमार गौरव रातों-रात स्टार बन गए थे। फिल्म में बंटी (कुमार गौरव) और पिंकी (विजेता पंडित) किरदार हमेशा के लिए लोगों के दिलों में बस गया। इस फिल्म के सुपरहिट होने के बाद शुरू हुई कुमार गौरव और विजेता पंडित की लव स्टोरी। आज कुमार गौरव का जन्मदिन है, ऐसे में उनकी जिंदगी से जुड़े किस्सों पर बात होना लाजिमी है। आइए, आपको सुनाते हैं एक ऐसा ही किस्सा-

 

 

80 के दशक में आई फिल्म ‘लव स्टोरी’ से हुई प्यार की शुरुआत

80 के दशक में आई फिल्म ‘लव स्टोरी’ में चाकलेटी हीरो के तौर पर अपनी पहचान बनाने वाले हीरो कुमार गौरव ने फिल्म में बहुत सुर्खियां बटोरी। वहीं दूसरी ओर खूबसूरत अभिनेत्री विजेता पंडित को भी दर्शकों ने बेहद पसंद किया। फिल्म ब्लॉकबस्टर साबित हुई। इस फिल्म से ही दोनों का प्यार परवान चढ़ने लगा। दोनों को हर पार्टी और पब्लिक प्लेस पर साथ-साथ देखा जाने लगा।

 

love story

रिश्तों में पड़ती दरार

इन दोनों के बीच सबकुछ ठीक-ठाक चल रहा था कि अचानक कुमार गौरव को संजय दत्त की बहन नम्रता दत्त के साथ जोड़ा जाने लगा। वहीं दूसरी ओर ये भी कहा जाता है कि विजेता के घरवालों को कुमार गौरव कभी पसंद थे ही नहीं। साथ ही विजेता के घर व्यक्तिगत परेशानियों का न खत्म होने का दौर शुरू हो गया था। वो धीरे-धीरे फिल्म इंडस्ट्री से गायब होने लगी थीं

 


 

संजय दत्त साबित हुए विलेन!

80-90 के दशक में मीडिया में छपी खबरों की मानें, तो संजय दत्त की बहन नम्रता दत्त का दिल उभरते हुए इस कलाकार पर आ गया था, जिस वजह से संजय दत्त ने भी कुमार गौरव से नजदीकियां बढ़ानी शुरू कर दी थी। उस दौर में संजय का फिल्म इंडस्ट्री में बेहद दबदबा हुआ करता था। साथ ही इस बात के कयास भी लगाए जाते हैं कि संजय ने कुमार गौरव को डरा-धमकाकर विजेता से रिश्ता तोड़ने को मजबूर किया था। वहीं दूसरी तरफ विजेता कुछ समय के लिए फिल्मी दुनिया से गायब-सी हो गई थी जबकि कुछ लोगों का ये भी कहना था कि विजेता के गायब होने की वजह संजय दत्त भी हो सकते हैं या फिर व्यक्तिगत परेशानियों में उलझकर विजेता डिप्रेशन में चली गई थी।

 

 

दोनों की प्रेमकहानी का दुखद अंत

साल 1984 में कुमार गौरव ने नम्रता दत्त से शादी कर ली। इसके बाद विजेता अचानक ही वापस लौट आई लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। दोनों के मिलने की बची-कुची उम्मीदें भी टूट चुकी थी।  साल 1986 में विजेता ने समीर मल्कान से शादी कर ली। हालांकि, कुछ ही समय बाद उनका तलाक हो गया। जिसके बाद 1990 में उन्होंने आदेश श्रीवास्तव से दूसरी शादी की लेकिन उनकी किस्मत ने यहां भी उनका साथ नहीं दिया और 2015 में उनके पति आदेश श्रीवास्तव की मौत हो गई। इस तरह 80 के दशक में परवान पर चढ़ी एक लवस्टोरी अंजाम तक पहुंचने से पहले ही दफन हो गई।…Next

 

 

vijeta-pandit11

Read More :

थाइलैंड के राजा ने अपनी बॉडीगार्ड को बनाया पत्नी, 3 शादियां और 7 बच्चों के पिता हैं राजा वाजिरालोंगकोर्न

कभी लॉटरी लगने पर छोड़कर चली गई थी मिलिंद सोमन की गर्लफ्रैंड! अब बीती बातें भूलकर दोनों मालदीव में बिता रहे हैं छुट्टियां

जया बच्चन और अमिताभ को 24 घंटे के अंदर इस वजह से करनी पड़ी थी शादी, 15 साल की उम्र में शुरू किया था कॅरियर

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग