blogid : 319 postid : 1396837

अपने गर्दिश के दिनों में अमिताभ का गाया वो गाना जिसने पलट दी थी उनकी किस्मत, इन 4 बातों के लिए भी याद रहेगा आरके स्टूडियो

Posted On: 30 Aug, 2019 Bollywood में

Pratima Jaiswal

खजाना मस्तीजब हों अकेले और उदास कर लें थोड़ी मस्ती से मुलाकात

Entertainment Blog

2727 Posts

670 Comments

कहते हैं छोटी-छोटी चीजें जिन्हें हम खास महत्व नहीं देते, वो कब हमारी यादों तक ही सीमित रह जाती है, कहा नहीं जा सकता। इसी तरह आरके स्टूडियों की खास बातें आज यादें बन चुकी है। आरके स्टूडियो में इस बार गणेश चतुर्थी का उत्सव नहीं मनाया जाएगा। दरअसल, आरके स्टूडियो में भीषण आग लगने के बाद इसे काफी नुकसान हुआ था। इसके बाद इसे गोदरेज प्रॉपर्टी को बेच दिया गया था। हाल ही में गणेश चतुर्थी के सेलिब्रेशन को लेकर रणधीर कपूर ने एक मीडिया को कहा कि ‘वो हमारे लिए आखिरी गणेश चतुर्थी सेलिब्रेशन था। आरके स्टूडियो अब नहीं रहा…तो कहां करेंगे? पापा ने 70 साल पहले यह परंपरा शुरू की थी और वह गणेश को बहुत प्यार भी करते थे, अब हमारे पास जगह ही नहीं है तो हम आरके स्टूडियो जैसी सेलिब्रेशन कहां करेंगे। हम बप्पा को बहुत प्यार करते हैं और हमारी उनमें श्रद्धा भी है, लेकिन मुझे लगता है कि हम इस परंपरा को जारी नहीं रख सकते हैं।‘ ऐसे में आरके स्टूडियो की यादें एक बार फिर ताजा हो उठी हैं, आइए जानते हैं किन बातों के लिए मशहूर था आरके स्टूडियो-

 

 

आरके स्टूडियो में बड़ी धूमधाम से मनाई जाती थी होली
बॉलीवुड में जब होली की बात की जाती है, तो सबको राज कपूर के जमाने की होली याद आ जाती है। ये होली आरके स्टूडियो में बड़ी धूमधाम से मनाई जाती थी। इसकी शुरुआत पृथ्वीराज कपूर ने की थी और इस जश्न का आयोजन राज कपूर के समय तक चला। आरके स्टूडियो की होली का सबको इंतजार रहता था। जिसे राज कपूर के यहां से होली में शामिल होने का मौका मिलता था, उसे बड़ा कलाकार माना जाता था।

 

 

गणेश चतुर्थी सेलिब्रेशन में नामी सितारे होते थे शामिल
आरके स्टूडियो की इस होली के जश्न में नरगिस, वैजयंती माला, हेमा मालिनी, धर्मेन्द्र, दिलीप कुमार, मनोज कुमार, राजेंद्र कुमार, जीतेंद्र, दारासिंह, राकेश रोशन, प्राण, जीनत अमान, मिथुन, राजेश खन्ना, प्रेमनाथ, अमिताभ, अनिल कपूर, शत्रुघ्न सिन्हा, राखी, रेखा, श्रीदेवी जैसे चर्चित कलाकार शामिल होते थे।

 

 

अमिताभ ने गाया था ‘रंग बरसे भीगे चुनर वाली’
जश्ना की खास बात यह भी होती थी कि इस होली समारोह में सभी को अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलता था। अपनी विफलता के दौर देख रहे अमिताभ बच्चन से जब राज कपूर ने अपना टैलेंट दिखाने को कहा, तो उन्होंने ‘रंग बरसे भीगे चुनर वाली’ गाना गाया। इसके बाद तो वहां समां बंध गया। बाद में यही गाना उनकी ही आवाज में यश चोपड़ा की फिल्म ‘सिलसिला’ में इस्तेमाल किया गया। 1988 में राजकपूर के निधन के साथ ही होली का ये सेलि‍ब्रेशन खत्म भी हो गया।

 

 

इन फिल्मों के लिए याद रह जाएगा आरके स्टूडियो
आरके स्टूडियो में कई ऐसी फिल्में बनी, जिन्होंने इतिहास रच दिया। इन फिल्मों में आग, बरसात, श्री 420, संगम, मेरा नाम जोकर, राम तेरी गंगा मैली जैसी फिल्मे बनी थीं। जिन्हें आज भी उम्दा फिल्मों की श्रेणी में रखा जाता है।…Next 

 

 

Read More :

जब लोकल ट्रेन में से गए थे सलमान, स्टेशन पर गुजारनी पड़ी थी रात

बॉलीवुड इतिहास में इस अभिनेत्री ने की सबसे ज्यादा पढ़ाई, जॉब जाने के बाद बनी हीरोइन

ऋषि कपूर की गर्लफ्रैंड के लिए नीतू सिंह लिखा करती थीं लव लेटर, अपनी शादी से ठीक पहले दोनों हो गए थे बेहोश

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग