blogid : 319 postid : 644963

बीस साल बाद भी याद हैं वो लम्हें

Posted On: 13 Nov, 2013 Bollywood में

खजाना मस्तीजब हों अकेले और उदास कर लें थोड़ी मस्ती से मुलाकात

Entertainment Blog

2787 Posts

670 Comments

कुछ दिन ऐसे होते हैं जो हमेशा के लिए यादों में बस जाते हैं और जब उन दिनों को सालों बाद भी याद किया जाता है तो सुकून दे जाते हैं. कुछ ऐसा ही इनके साथ भी हुआ. साल 1993 में 12 नंवबर के दिन बॉक्स ऑफिस पर फिल्म ‘बाजीगर’ रिलीज हुई और इस फिल्म के रिलीज होते ही शाहरुख खान की किस्मत बदल गई.


जब शाहरुख खान ने फिल्मी दुनिया में कदम रखा था तो उन्हें लगता था कि उनके चेहरे में रोमांटिक एक्टर बनने वाली कोई बात नहीं है इसलिए उन्हें केवल खलनायक का किरदार निभाने का ही मौका मिल सकता है. 12 नंवबर साल 1993 को बाजीगर फिल्म रिलीज हुई जिसमें लोगों ने शाहरुख खान के अभिनय को बेहद पसंद किया. यहां तक कि कुछ निर्देशकों ने यह तक कहा कि शाहरुख खान खलयानक का किरदार ही नहीं बल्कि रोमांटिक एक्टर के किरदार को भी बेहतरीन तरीके से निभा सकते हैं. आप सोच रहे होंगे कि हम बीस साल और एक दिन पुरानी बात को क्यों याद कर रहे हैं. दरअसल फिल्म बाजीगर को बॉक्स ऑफिस पर रिलीज हुए बीस साल हो चुके है.

शाहरुख खान की पांच दमदार फिल्में


bazigarशाहरुख खान ने बीस साल पहले के दिनों को याद करते हुए ट्विटर पर लिखा कि “बाजीगर फिल्म करना मेरे लिए चुनौती थी. आज इस फिल्म को रिलीज हुए 20 साल हो चुके है. अब्बास-मस्तान, काजोल, शिल्पा (शेट्टी) और राखी जी (राखी गुलजार) का शुक्रिया. अभी भी हारकर जीतने वाले को बाजीगर कहते हैं”. शाहरुख खान की इस बात से वो समय याद आ गया कि जब शाहरुख खान ने ‘आपकी अदालत’ में कहा था कि वो अपनी जिंदगी में एक वाक्य को बहुत महत्व देते हैं और वो यह है कि ‘हारकर जीतने वाले को बाजीगर कहते है’. इस एक वाक्य में इतनी शक्ति है कि व्यक्ति यदि इस वाक्य में यकीन रखता हो तो कभी भी अपनी जिंदगी में हार नहीं मान सकता है और जब तक हार ना मानी जाए तब तक हार होती नहीं है.


करीना की आंख में आंसू नहीं देख सकते शाहिद

प्रेमिका बदलने वाला युवक मत कहिए !!

क्या दीपिका को पीछे छोड़ देगी रज्जो ?


shahrukh khan in baazigar


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 4.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग