blogid : 2214 postid : 92

अब अफ़्रीका में नहीं दिखेगा फ्रांस का जादू

Posted On: 23 Jun, 2010 Others में

FIFA 2010World of Football

FIFA 2010 Blog

22 Posts

41 Comments

पिछले विश्व कप में जो चीज़ इटली की खिताबी जीत से भी ज़्यादा प्रसिद्ध हुई थी वह थी फ्रांस के फुटबॉल कप्तान ज़िदान द्वारा इटली के मार्को मतेराज्जी पर “हेड बट” और कहा तो यह भी जाता है अगर ज़िदान उस समय अपना आपा न खोते तो शायद आज कहानी कुछ और होती, खैर यह तो थी पुरानी बात. इस बार भी फ्रांस को दावेदारों की लिस्ट में रखा गया था परन्तु उन्होंने आकलन से विपरीत अपने दोनों मैचों में खराब प्रदर्शन किया था. जहाँ उनका पहला मुकाबला उruरुग्वे से गोलरहित समाप्त हुआ था वहीं मेक्सिको ने दूसरे मुकाबले में फ्रांस को आसानी से पराजित किया था.

फ्रांस के कोच रेमंड डोमेनेक को उनके द्वारा उठाये गए कदमों के कारण विरोध का सामना करना पड़ा था. कहा तो यह भी गया था कि फ्रांस के कोच अपने खिलाड़ियों से ज़्यादा अखबारों में छपी हुई बातों को ज़्यादा मानते हैं और यही कारण था कि उन्होंने चेल्सी के स्टार स्ट्राइकर अनेल्का को विश्व कप से बाहर का रास्ता दिखाया था.

वहीं यदि हम दक्षिण अफ़्रीका की बात करें तो कहा यह जाता है कि अगर दक्षिण अफ़्रीका मेज़बान देश नहीं होता तो शायद वह फीफा विश्व कप के लिए क्वालीफाई भी नहीं कर पाता. परन्तु घरेलू समर्थकों और वुवुज़ीला की धुन में इस टीम ने अभी तक अच्छा प्रदर्शन किया था.

आज पूरा दबाव फ्रांस पर है क्योंकि अगर फ्रांस को अपने सफ़र को जारी रखना है तो उन्हें यह मैच अच्छे अंतर से जीतना ही होगा. अगर फ्रांस ऐसा नहीं करता तो शायद यह थिएरी हेनरी का आखिरी विश्व कप भी हो सकता है.

लेकिन क्या फ्रांस यह कारनामा कर पाया? कौन पहुंचा अगले दौर में?

आगे का विवरण जानने के लिए देखिए स्लाइड शो [videofile]http://mvp.marcellus.tv/player/1/player/waPlayer.swf?VideoID=http://cdn.marcellus.tv/2962/flv/72032709406232010154553.flv::thumb=http://cdn.marcellus.tv/2962/thumbs/&Style=5361′ type=’application/x-shockwave-flash[/videofile]

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग