blogid : 2824 postid : 1123980

हास्य!ये ना लीगल है ना तर्क संगत।”!सभाष बुड़ावन वाला.

Posted On: 18 Dec, 2015 Others में

koi bhi ladki psand nhi aati!!!Just another weblog

सुभाष बुड़ावन वाला

805 Posts

46 Comments

LLB का एक छात्र  वकालत के एक पेपर में फेल होने के बाद प्रोफेसर साहब के पास गया और बोला… “सर आपको मेरे एक प्रश्न का जवाब देना है…, अगर आपने जवाब दे दिया तो मैं मेरा रिजल्ट सही मानकर चला जाऊंगा, अगर नहीं तो आपको मुझे पास करना पड़ेगा।”   प्रोफेसर साहब ने सोचा इससे पीछा छुड़ाना ही ठीक है। वे बोले, ठीक है पूछो…   छात्र: ऐसी कौन-सी बात है जो लीगल है, लेकिन तर्क संगत नहीं, तर्क संगत है, लीगल नहीं, ना लीगल है ना तर्क संगत ?   प्रोफेसर साहबः काफी देर सोचन के बाद जवाब नहीं दे पाए और उस फेल हो रह छात्र को पास कर दिया।   अगले दिन प्रोफेसर साहब ने वही प्रश्न कक्षा में पूछा। वे हैरान रह गए कि जवाब देन के लिए सभी लड़कों ने हाथ खड़े कर रख थे। उन्होंने एक लड़के को बोलन का मौका दिया।   उसने जवाब दिया, “सर आपने 56 साल की उम्र में एक 23 साल की लड़की से शादी की, ये लीगल है परंतु तर्क संगत नहीं।   आपकी बीवी ने एक हमउम्र लड़के को अपना ब्वॉयफ्रेंड बनाया, ये तर्क संगत है परंतु लीगल नहीं। और आपने अपनी बीवी के ब्वॉयफ्रेंड को फेल होन के बावजूद पास कर दिया ये ना लीगल है ना तर्क संगत।”   प्रोफेसर साहब तभी से बहोश हैं! !सभाष बुड़ावन वाला.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग