blogid : 15051 postid : 1176375

"अच्छे दिन" बालक दो वर्ष का हुआ

Posted On: 17 May, 2016 Others में

PAPI HARISHCHANDRASACH JO PAP HO JAYEY

PAPI HARISHCHANDRA

232 Posts

935 Comments

“अच्छे दिन ” नामक बालक दो वर्ष का हुआ |……………………………….अच्छे दिन तुम जीयो हजारों साल ……………………….अच्छे दिन अमर रहें …………………….happy birth day अच्छे दिन ……………………………..जनता अच्छे दिन के जन्म से ही अच्छे दिनों का अहसास चाहती है | जन्म होते ही कृष्ण की तरह या राम की तरह भ्रस्टाचार और आतंकवाद ,भूख गरीबी ,बेरोजगारी ,कुपोषण और राक्षशों को मारने वाला समझती है | .अवतार हुआ और राक्षशों का नाश ….| राम और कृष्ण के आलावा जितने भी अवतार हुए उन्होंने तुरंत ही राक्षशों का नाश किया था | राम राज्य भी रावण बध करके लंका फतह करके ही स्थापित किया जा सका था | जब राम २५ वर्ष के हो गए थे | …………………………..कलियुग मैं जब कोई अवतार होता है तो उसे बड़ा होने मैं २५ साल का समय लगता है | यह बात अमित शाह जी पाहिले ही कह चुके हैं | ..पंच वर्षीय योजनाओं की जगह सप्त वर्षीय योजनाएं लानी पड़ रही हैं | दो वर्ष का बालक अभी कैसे अच्छे दिन ला सकता है | उसे २५ वर्ष का बलिष्ट तो होने दो | कितने भयंकर शक्तिशाली राक्षशों का राज हो चूका है | .…...अच्छे दिन को पालने के लिए उसे बलिष्ट बनाने के लिए ही तो मोदी जी विभिन्न योजनाएं बना रहे हैं | ………………………………………….. प्रधानमंत्री जनधन योजना के 4 मई 2016 तक 21.74 करोड़ खाते खोले जा चुके हैं, तो लगभग 37 हजार करोड़ से ज्यादा रुपए भी जमा हो चुके हैं. जाहिर है, आम देशवासी जो बैंकिंग सर्विस से अब तक दूर थे, उनमें एक बड़ी संख्या जुड़ी, जिसका प्रभाव आज और भविष्य में बड़े स्तर पर नज़र आएगा, इस बात में दो राय नहीं! हालाँकि, लोगों का अकाउंट ओपन करने के बाद उनको बैंकिंग सर्विसेज के लिए जागरूक रखना होगा, ताकि वह साहूकारी से मुक्ति पाकर आर्थिक सशक्तिकरण की राह में कदम बढ़ा सकें. | जिसके लिए २५ वर्ष लग ही जायेंगे | ………………..मोदी सरकार द्वारा, अन्य महत्वपूर्ण योजनाओं में प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना और अटल पेंशन योजना हैं.| अब पेंसन तो २५ वर्ष के बाद ही तो मिल सकेगा | ……. ……….. प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के तहत 330 रुपए के सालाना प्रीमियम पर दो लाख रुपए का बीमा, तो प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना एक प्रकार की दुर्घटना बीमा है, जिसके तहत 12 रुपए के सालाना प्रीमियम पर दुर्घटना बीमा होगा. यह योजना 18 से 70 साल के लोगों के लिए है, जिसमें दुर्घटना में मौत होने या हादसे में दोनों आंखें या दोनों हाथ या दोनों पैर खराब होने पर दो लाख रुपए मिलेंगे.| जब समय बीतेगा तभी तो यह लाभ मिल सकेगा | …………………………………………………………………………. इसी तरह, अटल पेंशन योजना 18 से 40 साल के लोगों के लिए है, जो वैधानिक सामाजिक सुरक्षा योजना से वंचित लोगों के लिए है और उन्हें इसका लाभ मिलेगा.| जब समय बीतेगा तभी तो लाभ मिलते अच्छे दिन आएंगे | ………………………………………………… . इसी तरह, “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” के अंतर्गत सुकन्या समृद्धि योजना का आरम्भ किया गया जो वित्तीय वर्ष 2015-16 में 9.2 प्रतिशत वार्षिक ब्याज की घोषणा के साथ भारत की सबसे ज्यादा लाभ प्रदान करने वाली बचत योजना बन गयी है. …………………………………………. स्वर्ण मौद्रीकरण योजना, डिजिटल इंडिया, स्मार्ट सिटी योजना, 2022 तक सबको पक्के मकान का वादा, मेक इन इंडिया, स्टार्टअप इंडिया, स्टैंडअप इंडिया, 111 नदियों में ‘जलमार्ग’ एवं नीली क्रांति की योजना एवं 2016 के मई महीने में लांच की गयी गरीबों के लिए फ्री गैस कनेक्शन की ‘उज्ज्वल योजना’ भी नरेंद्र मोदी सरकार की बेहद महत्वपूर्ण योजनाओं में शामिल हैं. | ………………………………… , किसान समुदाय को सक्षम बनाने के लिए फसल बीमा योजना | …………….. ‘काले धन’ को वापस लाने की योजना …| …………योजनाएं तो योजनाएं ही होती हैं उन्हें पोषित करने के लिए धन चाहिए धन कोई पेड़ मैं नहीं पैदा होते उसके लिए टैक्स लगाना पड़ता है | फल भी पौधा लगा ने के वर्षों बाद ही मिल पते हैं | ………टैक्स से मंहगाई बड़ सकती है | चिंता मत करो मंहगाई का हल मंहगाई भत्ता है | बेतन आयोग है | …..अच्छे दिनों को खिला पिला कर सशक्त बनने के लिए ही तो यह सब कुछ होगा | ………………………………………………………….असहिष्णुता और पुरस्कार वापसी, गौ माता, भारत माता जैसे राक्षस अच्छे दिनों को हतोत्साहित करते रहेंगे | इनसे अच्छे दिनों के भक्तों को परेशान नहीं होना चाहिए | अच्छे दिन के भक्तों को उत्साहित करने के लिए मोदी जी नए नए सूटों मैं परिधानों मैं विदेश यात्रायें करते जनता के सामान्य ज्ञान को निरन्तर बढ़ाते और मनोरंजन करते रहे हैं | ………………….विश्व गुरु का अहसास करते रहने के लिए विश्व योग दिवस और विश्व सांस्कृतिक समारोहों से अच्छे दिनों का बोध करा दिया जा रहा है | …………………..भारतीय जनता बहुत धैर्यवान होती है ………….कल्पना से ही मन सिहर उठता है जब २५ वर्ष बाद, अच्छे दिन पूर्ण यौवन प्राप्त कर चुके होंगे | कल्पनाओं मैं यौवन प्राप्त पुत्र अच्छे दिन की सेवाएं लिए २५ वर्ष चुटकियों मैं बीत जायेंगे | राम मंदिर बन चूका होगा ,धारा ३७० हट चुकी होगी , बुलेट ट्रैन दौड़ती होगी ,कोई भी गरीब नहीं होगा ,सब का घर होगा ,.भारत विश्व गुरु बन चूका होगा ,राम राम जपने की जगह अच्छे दिन अच्छे दिन जपना ही मोक्ष का मार्ग बन चूका होगा | ….पता नहीं कैसे कैसे अच्छे दिन होंगे …...सब कुछ अच्छा होगा मृत्यु तो किसी के पास नहीं फटकेगी ..क्यों की …शुक्राचार्य की मृत संजीवनी विद्या जो अच्छे दिनों का आशीर्वाद स्वरुप साथ होगी ……………..ओम शांति शांति शांति

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग