blogid : 15051 postid : 692735

यमला पगला दीवाना , लक्ष्य न छोड़ना ,contest

Posted On: 24 Jan, 2014 Others में

PAPI HARISHCHANDRASACH JO PAP HO JAYEY

PAPI HARISHCHANDRA

232 Posts

935 Comments

जिस लक्ष्य पर अरविंदर केजरीवाल जी आप लक्षित हैं ,उसे कभी न छोड़ना | लक्ष्य तभी पाया जा सकता है जब नजर उसी पर हो ,अर्जुन की तरह …| लोग लाख पत्थर मारकर ,पगला कहकर ,दीवाना कहकर ,झूठा कहकर ,अराजक कह कर तन्द्रा भ्रमित करें , आप अपने कान बंद कर लैं |……………………………………………………………………….एक पालतू तोते की सी हालत हो गयी है आपकी ,जो पिंजरे से छूट कर जंगली तोतों मैं फँस गया है | यह जंगली क्या जानें सभ्य ,शिष्टाचारी ,भ्रष्टाचार विहीन ,हरिश्चन्द्री भाषा को | जितना इन्हें सिखाना चाहो, उतनी ही चोंचें मार मार कर घायल कर रहे हैं | मारने दो जितने ताने और चोंचे मार रहे हैं यह जंगली ….| इतना आत्मबल और दृढ़ निश्चय रखो कि इन जंगलियों को सभ्य भाषा सिखा कर इनका जीवन उद्धार कर सको | मार भी डालेंगे तो भी आपका एक प्रयास ही होगा ,जो इतिहास बनकर याद किया जाता रहेगा | …………………….आपका पहला प्रयास तो सफल ही रहा | आपने भयंकर शेर की दहाड़ को इन जंगलियों के जेहन से उतार ही दिया है | सारे जंगली तोते ,पक्षी ,जानवर ,आपका उपकार जीवन पर्यन्त नहीं भूल पाएंगे | कांग्रेस को तो मानो संजीवनी ही मिल गयी है | राहुल जी अब शेर से नहीं डरने वाले …| उनका आत्म विश्वास अब सातवें आसमान पर पहुँच रहा है | कांग्रेसी अब एक बार फिर सत्ता स्वप्न मैं खोते चैन की नींद सोने लगे हैं | शेर का भय अब जाता रहा है | मन मोहन सिंह जी चलो एक बार और सही पर विचारमग्न हो रहे हैं |………………….आप अपने लक्ष्य मैं लगे रहें ,हम सब भारतवाशी जंगली जीव ,भ्रष्टाचार को जड़ से नष्ट करने के लिए आप के साथ हैं | घबराएं नहीं इन जंगलियों को भ्रष्टाचार विहीन भाषा सिखाकर ही दम लैं | ……………………………………………………………………………..अरविंदर केजरीवाल जी मैं आपकी कुंडली के अनुसार सावधान करना चाहता हूँ कि आपका शनि अशुभ व्यय भाव मैं नीच का है | जो सफलता पर प्रश्न चिन्ह लगाता है | विशेष योग्यता होने के बावजूद भी जीवन मैं कठिनाईयों व संघर्षों से जूझना पड सकता है | हो सकता है साधारण जीवन को मजबूर कर दे |…………………………………………………………………………….शनि हमें यथार्थवादी बनाकर हमारी वास्तविक शक्तियों व योग्यताओं से अवगत कराता है ,तथा हमें एकांतप्रिय होकर निरंतर लक्ष्य की और अग्रसर करवाता है |……………………………………..अतः आप हठी न होकर किरण बेदी जी की सलाह मान नरेंद्र मोदी को आदर्श मान ‘आप ‘ को व देश को कूटनीतिक लक्ष्य दें | भूल जाएँ हरिश्चंद्र को यदि अपने को ‘आप ‘ को, देश को कुछ देना है | पुराने राजनीतिज्ञों का अनुसरण कर अपने को आप को बनाये रखें | मुलायम सिंह जी ,मायावती जी ,ममता बनर्जी ,जैसे समझदारों से सीख लैं |…………………….पूरा देश भ्रष्ट होते हुए भी एक मार्गदर्सन चाहता है एक लक्ष्य चाहता है | एक भयंकर जन जागरण हो रहा है | भ्रष्टाचार नष्ट करने का मुहिम चलता रहे , इसके लिए यह भी आवश्यक है कि’ आप’ भी अश्तित्व बनाये रहे | मीडिया मैं छाये रहो बस इतना ही बहुत है | …………………………………………………………………………..ॐ शांति शांति शांति

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (3 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग