blogid : 15051 postid : 756991

हिन्दूज्म निरंकुशता का पदार्पण

Posted On: 21 Jun, 2014 Others में

PAPI HARISHCHANDRASACH JO PAP HO JAYEY

PAPI HARISHCHANDRA

232 Posts

935 Comments

तानाशाह किसको कहते हैं …? जहाँ सर्व शक्तियां केंद्रित हो जाती हैं वही तानाशाह कहलाता है | तानाशाही व्यक्ति की हो सकती है | जैसे हिटलर …| पार्टी की हो सकती है ..जैसे कम्युनिष्ट …..चीन ,और रूस की ..| धर्म की भी होती है …जैसे बुद्धिज़्म तानाशाही से सम्पूर्ण विश्व मैं छा गए ..| मुस्लिम भी अपनी तानाशाही से ही विश्वव्यापी हुए | ………………………………….…हिन्दुस्म तानाशाही एक कल्पना ही रही | भारतीय जनसंघ का यह सपना ही रहा | किन्तु बदले रूप मैं भारतीय जनता पार्टी हिन्दूज्म तानाशाही को यथार्थ रूप मैं साकार कर रही है | प्रबल हिन्दू जागरण से जाग्रत भारतीय जनता पार्टी के केंद्र नरेंद्र मोदी जी सर्व शक्तिमान भगवन स्वरुप ही हो चुके हैं | उनके बिना भारतीय जनता पार्टी जीरो हो चुकी है | एन डी ए भी जीरो हो चूका है | कहीं भी कोई भी विरोध नहीं कर सकता है | यहाँ तक कि विपक्ष भी जीरो सूख कांटा ही रह गया है | अभी लगता है कि और शक्ति समेटी जाये तभी तो मंत्रियों को अपने सचिवों को भी यु पी ए से एक दिन के भी जुड़े स्वीकार नहीं किये | राज्यों मैं भी पूर्ण प्रभुत्व लाने के लिए कांग्रेसी राजयपालों को भी त्यागपत्र को मजबूर किया जा रहा है | तभी तो मनमानी करते वहां की विधान सभाएं भी भंग करने की शक्ति जाग्रत की जा सकेगी | तभी तो सर्व शक्ति आ सकेगी | कांग्रेस ने भी तो राजयपालों को हटाया था | क्या कांग्रस ने घोटाले किये थे तो क्या आप भी वैसे ही करोगे | कांग्रेसी राष्ट्रपति जी भी रहे हैं ……भगवन न करे ….| काम भी तो बहुत अच्छे दिन लाने वाले करने हैं तभी तो और शक्ति बनानी है | जब देश के सारे राज्यों की सरकारें भारतीय जनता पार्टी की होंगी ,राजयपाल भी भारतीय जनता पार्टी के होंगे | केंद्र भी भारतीय जनता पार्टी का तभी तो राम राज्य पूर्ण होगा | राम मंदिर भव्यता से बन सकेगा | कश्मीर से धरा 370 हटाई जा सकेगी | यहाँ तक की हिन्दू राष्ट्र के रूप मैं विश्व को मान्यता देनी ही पड़ेगी | आज भारत के आराध्य एकेश्वर ही हो चुके हैं | किसी दूसरे ईश्वर की कल्पना भी नहीं हो पा रही है | भगवन कृष्ण की तरह ही बन चुके हैं नरेंद्र मोदी जी …| हो सकता है आने वाले समय मैं महाभारत सा ग्रन्थ भी रच जाये जिसमें भगवत गीता सी अमर वाणी का उदघोस करते नजर आएं | इंद्र को घमंड हो गया था उसके घमंड को चूर चूर करना भी तो था | ”अहम ब्रह्माष्मी ” भी तो सिद्ध करना होगा | महर्षि व्यास की लेखनी तो आजतक निभा ही लेगा | कलयुग मैं भगवन का अवतार शायद हो ही चूका है अब हर भारतीय ने अपने आराध्य को पहिचान ही लिया है अब सिर्फ नमो नमो का जप करते सारे भारतियों का उद्धार अवश्य ही होगा | कण कण मैं विद्यमान भगवन कृष्ण अब फिर साकार हो चुके हैं | अब सिर्फ नाम मात्र ही उद्धार कर देगा | भगवन कृष्ण की तरह पुरुषोत्तम सिद्ध हो ही जायेंगे | हमारे आराध्य जो कुछ भी करेंगे वह जन हित के लिए ही तो होगा | यही विचार जन जन मैं जाग्रत होगा | ……………………………………………………………………………...अच्छे दिन फिर कलियुग मैं भी आ ही गए हैं | रेल किराया भी तो दिल थोक कर बड़ा दिया अर्थ व्यवस्था जो सुधारनी होगी ,गरीब अब शाही अंदाज की व्यवस्थित गाड़ियों मैं सफर का मजा ले सकेंगे | गरीबों का काम तो होता ही चिल्लाना है | कुछ भी दे दो कितना ही रियायत कर दो चिल्लायेंगे तब भी | जब शाही अंदाज मैं सफर करेंगे अपने आप चुप होते जायेंगे | पैसे कोई पेड़ पर तो उगते नहीं,कुछ न कुछ जुगाड़ ,पराक्रम तो करना ही पड़ता है | कड़वी दवा तो खानी ही पड़ती है | ………………………………………ओम   शांति   शांति शांति

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग