blogid : 2479 postid : 1175

इस बजट ने बचा ली लाज नहीं तो कटोरा लेकर घूमता भारत

Posted On: 28 Feb, 2013 Others में

Hindi News and BlogsNews, news in hindi, news 24, news headlines in hindi

hindinewsblogs

325 Posts

29 Comments

गुरूवार को वित्त मंत्री पी. चिदंबरम बजट पेश करने वाले हैं। इनसे आम से खास तक की ढेर सारी उम्मीदें जुड़ी हुई हैं। इसकी सबसे बड़ी वजह यह है कि आज तक के इतिहास में चिदंबरम द्वारा पेश 1997 के बजट को ड्रीम बजट कहा जाता है। अब देखते हैं कि इन उम्मीदों पर चिदंबरम कितना खरा उतरते हैं। चलिए हम आपको आज देश में क्रांतिकारी परिवर्तन लाने वाले उस बजट के बारे में बताते हैं। जब देश की अर्थव्यवस्था खतरे की घंटी बजा रही थी।


कठोर आयात नियम की वजह से भारत की अर्थव्यवस्था चरमरा गई थी। कोई देश भारत को एक पैसा कर्ज देने में कतराता था। ऐसे हालत में सुधार की कोई गुंजाइश नहीं देख तत्कालिन वित्त मंत्री मनमोहन सिंह ने उदारीकरण का रास्ता अपनाया।


देश में आयात को लाइसेंसिंग सिस्टम के जरिए बहुत ही कठिन बना दिया गया था। नॉन-कोर प्रोजेक्ट्स के बजट फंडिंग को रोक दिया गया था। इतनी दिक्कतें थी कि कोई निवेश ही नहीं करना चाह रहा था। अर्थव्यवस्था की हालत पतली हो गई थी। तब मनमोहन सिंह ने वित्तमंत्री के तौर पर 24 जुलाई 1991 को जो आम बजट पेश किया था, भारतीय अर्थव्यवस्था को विश्व बाजार के लिए खोल दिया था। मनमोहन सिंह ने इम्पोर्ट-एक्सपोर्ट पॉलिसी को बदल डाला। विदेशी बाजार को कम्पीट करने के लिए इम्पोर्ट लाइसेंस फीस को घटाया, एक्सपोर्ट को प्रोमोट किया। कस्टम ड्यूटी को 220 फीसदी से घटाकर 150 फीसदी किया।


इसके बाद जिस इंडिया को गरीब देश के नजरिए से देखा जाता था, आज वही दुनिया में दूसरी सबसे तेज गति से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बन गई है।



****************************************


जब लेडी पुलिस को देख धौनी ने बीच में ही खेल रोक दिया


भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच हुए पहले टेस्ट मैच के दौरान एक ऐसी घटना घटी, जिसने स्टेडियम में बैठे तमाम दर्शकों का ध्यान अपनी ओर खींच लिया। यह घटना जब घटी तब क्रीज पर टीम इंडिया के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी बल्लेबाजी कर रहे थे। उस घटना के बाद खेल को बीच में ही रोकना पड़ा। यह पूरा वाकया भारतीय पारी के 71वें ओवर की तीसरी गेंद का है।


दरसअल, जेम्स पैटिंसन के उस ओवर की दूसरी गेंद पर विराट कोहली ने 1 रन पूरा कर धौनी के हाथों में स्ट्राइक थमाया। पैटिंसन तीसरी गेंद फेंकने के लिए तैयार थे और धौनी स्ट्राइक पर तैयार थे, तभी अचानक धौनी ने रुकने का इशारा किया और वे अपने स्थान पर खड़े हो गए। जब उन्होंने अंपायर से साइड स्क्रीन की तरफ इशारा किया तो वहां, एक महिला पुलिसकर्मी बड़े आराम से चहलकदमी कर रही थी। वह इस बात से अनजान थी कि उसके कारण खेल बीच में रुक गया है। इन घटनाओं को कैमरामैन बहुत ही तेजी से कैद करते हैं।


तत्काल उस घटना का टेलीकास्ट किया गया तो वह स्टेडियम में लगी स्क्रीन पर दिखने लगी। इसके बाद दर्शकों ने काफी शोर मचाया, तब जाकर महिला पुलिसकर्मी को इस बात का अंदाजा हुआ कि उसके कारण खेल रुका पड़ा है। जैसे ही उसे पता चला तो वह शर्म से लाल हो गई और दौड़ती हुई साइड स्क्रीन से किनारे हुई। इस घटना के बाद धौनी एक मीठी सी मुस्कान के बाद फिर से स्ट्राइक पर तैयार हुए और खेल आगे बढ़ा। उस समय धौनी सिर्फ 13 रन पर खेल रहे थे।



Tag:Union Budget2013, P Chidambaram, Finance Minister, India’s 82nd national budget, tax, tax rebate, investment, prime minister manmohan singh, budget 1991, India Australia Test Series 2013, MS Dhoni, Chennai Test, Virat Kohli,Budget2013 संघ, पी चिदंबरम, वित्त मंत्री, भारत के 82 राष्ट्रीय बजट, कर, कर छूट, निवेश, प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह , भारत ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज 2013, एम.एस. धोनी, चेन्नई टेस्ट, विराट कोहली

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग