blogid : 7629 postid : 716121

पृथ्वी पर ऐसी शक्ल वाले जानवर, कहीं एलियन तो नहीं !

Posted On: 12 Mar, 2014 Others में

अद्भुत दुनियारंग-बिरंगी दुनिया की अद्भुत तस्वीर और अनोखे रंग-ढंग को दर्शाता ब्लॉग

विविधा

1490 Posts

1294 Comments

हैरी पॉटर सीरीज में आपने लॉर्ड वोल्डमोर्ट को तो देखा ही होगा. प्रोफेसर वोल्डमोर्ट का किरदार इतना प्रभावी और दिलचस्प था कि विलेन होने के बावजूद बहुत से लोग उसे बहुत पसंद करते हैं. अब भई पसंद करते हैं, दिलचस्पी से देखते हैं तो ऐसे में वोल्डमोर्ट की अजीबोगरीब नाक को तो आप बिल्कुल भूल ही नहीं सकते. पिचकी हुई छोटी सी सपाट नाक…जिसने वोल्डमोर्ट की खतरनाक शक्ल को और अधिक खतरनाक बना दिया था. अब जरा ये सोचिए कि वाकई किसी की ऐसी नाक हो तो…..



आज हम आपको कुछ ऐसे ही जानवरों की कहानी बताते हैं जो थोड़ी दर्दनाक जरूर है लेकिन कहते हैं ना जिसका कोई नहीं होता उसका खुदा होता है. इन बेजुबान जानवरों को भी इंसान के रूप में भगवान का सहारा मिला, जिसके बाद मौत और जिंदगी की जंग लड़ रहे ये जानवर आज फिर से बिना किसी डर के जी रहे है:


चार्ली और वोल्डमोर्ट: स्किन कैंसर पूरे शरीर में ना फैल जाए इसलिए चार्ली नाम की मासूम बिल्ली के कान और नाक काटने पड़े. नाक और कान शरीर से अलग हो जाने के बाद चार्ली की शक्ल पूरी तरह बदल गई और वह हैरी पॉटर सीरीज के प्रोफेसर वोल्डमोर्ट की तरह दिखने लगी. लेकिन वर्ष 2011 में चलाए गए एक अभियान के तहत चार्ली को गोद लेने के लिए हजारों लोगों ने आवेदन दिया और जिन्होंने चार्ली को गोद लिया वे हैरी पॉटर के फैन भी नहीं थे.


voldemort


मौत की झूठी खबर बनी मौत की वजह


सैंडी को मिला नया जीवन: बो-लेग्ड जर्मन शेफर्ड अपने टेढ़े पांव की वजह से चलने में असहज था लेकिन सर्जरी के बाद उसे भी नया जीवन मिल गया. आज वह खुद अपने पांव पर चलता है और बच्चों के साथ खेलता भी है.


german shephard


होप को मिला नया सहारा: अमेरिका में रहने वाला माल्तीज नस्ल के कुत्ते की आगे की दोनों टांगें छोटी थी जिसकी वजह से वह चल पाने में असफल था. होप नाम के इस कुत्ते का वर्ष 2008 में ऑपरेशन हुआ और मॉडल एरोप्लेन नाम का डिवाइस उसके पैरों में लगाया गया. सफल ऑपरेशन के बाद उसने आसानी से चलना शुरू कर दिया.


hope


पैरालाइज्ड जैस्पर ने फिर से चलना शुरू किया: पैरालाइज्ड होने की वजह से जैस्पर करीब चार साल तक बिस्तर पर पड़ा रहा. स्टेट ऑफ द आर्ट ट्रीटमेंट ने जैस्पर का ऑपरेशन करवाया जिसके बाद जैस्पर ने चलना शुरू किया. जैस्पर की नाक में से सेल निकालकर मस्तिष्क और नाक के बीच कम्यूनिकेशन स्थापित करने का एक रास्ता तैयार किया गया


jasper


ऑपरेशन के बाद ग्लोरी: क्रॉस ब्रीड नस्ल की ग्लोरी पर रोमानिया में हमला किया गया जिसके बाद वह बुरी तरह से घायल हो गई. ऐसी हालत में उसे वैनेसा बमकिन और रॉजर नामक दंपत्ति ने गोद लेकर उसका ऑपरेशन करवाया. तीन बार सर्जरी कराने के बाद आज ग्लोरी अपने मालिक के साथ बहुत खुश है.


glory


Read More:

जानवरों की जंग बनी टॉप स्टोरी ब्रेकिंग न्यूज

क्या कहता है सपने में स्त्री का आना ?

ऐसी जॉब तो आप शायद ही करना चाहें


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग