blogid : 7629 postid : 843623

कुछ ऐसा करने पर यहाँ की युवतियों को मिलता है मनचाहा वर

Posted On: 28 Jan, 2015 Others में

अद्भुत दुनियारंग-बिरंगी दुनिया की अद्भुत तस्वीर और अनोखे रंग-ढंग को दर्शाता ब्लॉग

विविधा

1490 Posts

1294 Comments

शादी-ब्याह जैसे ख़ास अवसर पर शुरू हुई कोई प्रथा धीरे-धीरे प्रचलन में आ जाती है और फिर समय के साथ वो परिवर्तित होते रहती है. शादी का ज़िक्र होते ही वर के मन-मस्तिष्क में वधू और वधू के मन-मस्तिष्क में होने वाले वर की अंजान तस्वारें आकार लेने लगती है. लेकिन एक और चीज़ जो उन्हें रोमांचित करती है वो है शादी से जुड़े प्रचलित रिवाज़. विश्व के विभिन्न देशों में शादी से जुड़े कई ऐसे रिवाज़ है जो अनोखे हैं. भारत में भी शादी से जुड़े कई रिवाज़ प्रचलन में हैं. दिशा और दूरी के अनुसार इसमें अंतर आना स्वभाविक है. लेकिन आज आप जिस शादी के रिवाज़ में पढ़ेंगे वो कुछ अलग ही है. वो रिवाज़ भारतीय तो नहीं है, लेकिन है अनोखी!


marriage


भारत में कुँवारी युवतियाँ सुयोग्य वर पाने के लिए तरह-तरह के व्रत करती है जिसमें ‘सोलह सोमवारी’ सामान्य किंतु बेहद प्रचलित है. लेकिन  दक्षिण अफ्रीका के ईथोपिया और सोमालिया के मध्य में बसी एक बस्ती में रहने वाली जनजाति की युवतियां मनचाहे वर की प्राप्ति के लिए कुछ ऐसा करती है जिसे पढ़कर आपको हैरानी होगी! बोराना जनजाति की ये युवतियाँ अच्छे वर को पाने के लिए अपनी शादी से पहले सिर का एक बड़ा हिस्सा मुंडवा कर रखती हैं. इस जनजाति के लोग यह मानते हैं कि इस तरह सिर का एक हिस्सा मुंड़वाने से लड़कियों को अच्छे वर प्राप्त होते हैं.


Read: अगर मुझसे शादी करनी है तो तुम्हें मुझे बाथरूम ले जाना होगा, नहलाना होगा… मंजूर है? एक अनोखा लव प्रपोजल…



माना जाता है कि बोराना जनजाति की लड़कियों को उनकी शादी के बाद ही पूरी तरह से बाल बढ़ाने और उसे सँवारने का पूरा मौका दिया जाता है. केवल इतना ही नहीं, यहां के लोग महानगरों की शादियों की तरह फोटो खिंचवाना भी अच्छा नहीं मानते. इनकी मान्यताओं के अनुसार ऐसा करने से शरीर में खून की कमी हो जाती है.


boranaa



लेकिन इसी समाज का एक सच यह भी है कि तेजी से बदलती प्रथाओं का कुछ प्रभाव यहाँ भी देखा जाने लगा है. जहाँ एक ओर उनमें शिक्षा के लिए ललक बढ़ रही है, वहीं दूसरी ओर शिक्षित युवतियाँ धीरे-धीरे इस प्रथा से किनारा भी कर रही हैं. लेकिन अब भी इस प्रथा की जड़ें बहुत गहरी है. Next….



Read more:

दुल्हन थी, बराती थे पर दुल्हा नहीं…लेकिन हो गई शादी

केवल पति नहीं बल्कि पत्नियों के लिए भी जरूरी हैं शादी से पहले इन बातों को समझना

हनुमान जी की शादी नहीं हुई, फिर कैसे हुआ बेटा? जानिए पुराणों मे छिपी एक आलौकिक घटना


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग