blogid : 7629 postid : 1043601

बाउंसरों की फैक्ट्री है यह गांव, यहीं से भेजे जाते हैं दिल्ली-एनसीआर में बाउंसर

Posted On: 22 Aug, 2015 Others में

अद्भुत दुनियारंग-बिरंगी दुनिया की अद्भुत तस्वीर और अनोखे रंग-ढंग को दर्शाता ब्लॉग

विविधा

1490 Posts

1294 Comments

आर्थिक उदारीकरण के बाद के बाद दिल्ली सिर्फ तेजी से बदली ही नहीं फैली भी. शहर फैलकर गांवों में घुस आया जिसने न सिर्फ गांवों के रंग-रोगन बल्कि उनकी आत्मा, उनके डीएनए तक बदल डाले. दिल्ली की सीमा से सटा गांव असोला-फतेहपुर बेरी की आय का मुख्य स्रोत कभी कृषि हुआ करता था. लेकिन आज यह गांव दिल्ली एनसीआर में उग आए सैकड़ों क्लब, पब, होटल, सिनेमाघरों आदि को बाउंसर सप्लाई करने के लिए जाना जाता है.


bouncers2_



गांव के अखाड़े के मुख्य पहलवान विजय कहते हैं कि, “इस गांव में शायद ही कोई लड़का होगा जो जिम नहीं जाता होगा.” उनका कहना है कि, “सभी लड़के कड़ी मेहनत करते हैं और अपने शरीर का ख्याल रखते हैं. कोई भी यहां शराब नहीं पीता और तंबाकू का सेवन नहीं करता.” ज्यादातर लड़के बेहद कम उम्र में ही पहलवानी के पेशे में उतर आते हैं, इस उम्मीद से की एक दिन वे ओलंपिक में पहुंचेंगे लेकिन अगर वे इसमें असफल होते हैं तो बाउंसर बनने का विकल्प उनके सामने हमेशा खुला रहता है.


Read: फुटपाथ पर सोने वाले इस बेघर बुजुर्ग ने बनाई है ऐसी बॉडी


उदाहरण के लिए नवजवान पहलवान केशव तंवर, अपना अधिकांश समय जिम में बिताते हैं. केशव का कहना है कि, “मुझे इससे कोई फर्ख नहीं पड़ता कि आगे चलकर मुझे और कौन सी नौकरी मिलेगी. मैं एक बांउसर बनना चाहता हूं. बाउंसरों का शरीर फिट रहता है और मैं भी चाहता हूँ कि मेरा शरीर फिट बना रहे.”



photo-essay-



यह गांव बाउंसर पैदा करने वाली फैक्ट्री के रूप में करीब 15 साल पहले उभरना शुरू हुआ. विजय पहलवान बताते हैं कि एक सुबह वे गांव के अखाड़े में रियाज कर रहे थे. उनके पास एक पब का मालिक आया और नई दिल्ली में एक शादी समारोह के लिए 5 पहलवानों की मांग की जिसके लिए वह 10 हजार रूपए देने को तैयार था. उस समय यह काफी बड़ी रकम थी और गांव के लड़के इसके लिए झटपट तैयार हो गए और तब से यह सिलसिला चल पड़ा.



bouncers3



आज असोला के बाउंसरों को 1,500 रोजाना दिया जाता है. वे महीने के 30,000-50,000 तक कमा लेते हैं… Next…


Read more:

शरीर से लकवाग्रस्त और जीता तीन बार मिस्टर इंडिया का खिताब

कभी बल्लेबाजों के छक्के छुड़ाने वाला यह क्रिकेटर आज है बॉडी बिल्डिंग चैंपियन

दुनिया का सबसे ताकतवर बौना हुआ 6 फीट 3 इंच लंबे किन्नर के प्यार में घायल

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग