blogid : 7629 postid : 1149593

41 कुत्तों के साथ खाता-पिता और सोता है यह परिवार

Posted On: 2 Apr, 2016 Others में

अद्भुत दुनियारंग-बिरंगी दुनिया की अद्भुत तस्वीर और अनोखे रंग-ढंग को दर्शाता ब्लॉग

विविधा

1490 Posts

1294 Comments

सुरक्षित रहने और आगे बढ़ने के लिये इस दुनिया में ‘परिवार’ की जरूरत सभी को पड़ती है. सामान्यतः परिवार के सदस्यों में बड़े और बच्चे शामिल होते हैं, परन्तु वर्तमान में जानवरों को भी परिवार के सदस्यों का दर्जा दिया जाता है. आधुनिक समय में जानवरों को पालना शानो-शौकत को भी दर्शाता है. लेकिन बर्नस्ले में रहने वाले एक ब्रिटिश बुजुर्ग दंपति अपने घर में 1 या 2 नहीं, बल्कि 41 कुत्तों को स्थान दिया है. 58, वर्षीय लीन और 67 साल के उनके पति टोनी अपना पूरा समय इन 41 कुत्तों के साथ गुजारते हैं.

dogs

उनका खाना बनाने में 2 घंटे का समय लगता है, लीन को अपने पेट्स के लिए 41 जगह डिनर सर्व करना पड़ता है. लीन के अनुसार “खान खिलाते वक़्त मुझे उनके साथ मौजूद रहना होता है ताकि उनकी पसंद के बीफ और चिकन के बाउल चेंज न हो, जिसकी वजह से वो कितनी बार झगड़ा भी करते हैं.”

41 कुत्तों को एक साथ वॉक पर ले जाना किसी मिलिट्री परेड से कम नहीं, जिसके लिए लगभग 120 पूप स्कूप भी साथ में ले जाने होते हैं. टोनी के अनुसार “हम उनको अपने तीन बैडरूम के घर में खुला रखते हैं, वो हमारे साथ सोफे और बैड भी शेयर करते हैं, कितनी बार उनके झगड़ों को खत्म करना मेरे और लीन के लिए भारी पड़ जाता है” टोनी कहते हैं” कई बार ये कुत्ते मेरे और लीन के बीच झगड़े का कारण बन जाते हैं लेकिन लीन के लिए इनके बिना जिन्दा रहना असम्भव है.

ज़िन्दगी में कोई इंसान नर्स बनना चाहता है तो कोई ऑफिस में काम करना चाहता है लेकिन लीन बचपन से ही बहुत सारे कुत्ते पालना चाहती थी. टोनी बताते हैं कि “हम अपने हनीमून के बाद 21 सालों में  आज तक कहीं घूमने नहीं गए, लीन साल में केवल एक दिन के लिए घर से दूर, यूके में आयोजित होने वाले डॉग शो को देखने जाती हैं. लीन ने एक अंधे कुत्ते को भी पाला हुआ  है जिसको अधिक केयर की जरूरत पड़ती है.”

इनके इलाज और खाने के लिए यह दम्पति प्रति वर्ष लगभग 28,65,416 रूपये खर्च करता है. यह कपल और भी डॉग्स पालना चाहता है लेकिन स्टेट कॉउन्सिल 41 से अधिक कुत्ते पालने की अनुमति नहीं देती. लीन इन कुत्तों को एक माँ की तरह प्यार करती हैं…Next


Tags:       

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग