blogid : 7629 postid : 887061

अपनी बेटी को बांधकर रखने के लिए मजबूर है यह पिता

Posted On: 21 May, 2015 Others में

अद्भुत दुनियारंग-बिरंगी दुनिया की अद्भुत तस्वीर और अनोखे रंग-ढंग को दर्शाता ब्लॉग

विविधा

1490 Posts

1294 Comments

बच्‍चे उन आजाद पंछि‍यों की तरह होते हैं जि‍न्‍हें ना आज का गम है ना कल की फि‍कर. ऐसी उम्र में उनका मन बहुत ही चंचल होता है, वह किसी भी कायदे कानूनों में बंधे रहना पसंद नहीं करते लेकिन 12 साल की यांग को ऐसी कौन सी बीमारी है जिसने अपनी आधी जिंदगी खिड़की से बंधकर बिताई है और शायद आगे भी ऐसे ही बिताएगी.


image01



जब यांग 8 महीने की हुई तब उसे मस्तिष्क रक्तस्राव (ब्रेन हैमरेज) हुआ. वह मानसिक रूप से विकलांग हो चुकी थी और परिवार के साथ संवाद करने में भी असमर्थ थी. यांग के पिता के मुताबिक यांग कहीं चली ना जाए इसलिए उसे खिड़की से साथ बांधकर रखा जाता है.


Read: एक लड़की से शादी करने के लिए वो खुद लड़की बन गया


image02



चीन के शानक्सी प्रांत की रहने वाली 12 साल की यांग का इलाज भी किया गया फिर भी वह ठीक नहीं हो पाई. यांग के पिता के मुताबिक अपनी बच्ची के इलाज के लिए उन्होंने अपने एक जानवर को भी बेच दिया. यांग के पिता गरीबी की वजह से अपनी बेटी के इलाज के खर्चों का भार अब आगे नहीं उठा सकते.


Read: लड़की का यह उत्तर पढ़ शिक्षक हुआ शर्मसार


image03



यांग के पिता का कहना है कि जब उनकी बेटी छोटी थी उस दौरान वह पलंग से नीचे गिर गई और जमीन पर उसका सर जा लगा तब से वह अपनी बेटी के साथ संवाद करने में असमर्थ हैं. यांग के अभिभावक यांग को खिड़की के साथ बांधे रखते हैं और जब काम पर जाना होता है तो उसे बाहर पेड़ के साथ बांध देते थे…..Next



Read more:

पढ़िए आम से खास बनी एक विकलांग लड़की की कहानी जिसने कभी अपंगता को अपनी कमजोरी नहीं बनाया

लड़की ने की लड़की से शादी और दोनों ने दिया बच्चे को जन्म

इस लड़की के प्यार में कौवे देते हैं बेशकीमती तोहफे

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग