blogid : 7629 postid : 1306608

90 के दशक के ये 7 टीवी सीरियल अगर वापस आ जाए तो सबसे ऊपर होगी इनकी टीआरपी!

Posted On: 11 Jan, 2017 Others में

अद्भुत दुनियारंग-बिरंगी दुनिया की अद्भुत तस्वीर और अनोखे रंग-ढंग को दर्शाता ब्लॉग

विविधा

1490 Posts

1294 Comments

अब के टीवी सीरियल्स पर एक नजर डालिए. वहींं सास-बहू, साजिशों, रंजिशों, प्लास्टिक सर्जरी, पुर्नजन्म, नागिन बदला वगैरह-वगैरह का ना खत्म होने वाला दौर. जरा सोचिए, जब भी कोई आपके सामने इन सीरियल्स की बात करता है आप कुछ टाइम बाद जरूर उब जाते होंगे. आपका उबना लाजिमी भी है, क्योंकि ज्यादातर टीवी सीरियल्स एक ही तरह के लगते हैं या घूम फिरकर एक ही ट्रैक पर आ जाते हैं.


show

वहीं बात करें 90 के टीवी शो की, तो हल्के-फुल्के अंदाज में ये टीवी शो जिंदगी की बड़ी से बड़ी बात सिखा जाते थे. अरे! जरा रूकिए, आपको दिमाग पर जोर डालने की जरूरत नहीं है. हम आपको बताते हैं 90 के दशक के ऐसे सदाबहार कॉमेडी टीवी सीरियल्स के बारे में जिन्हें अगर आज भी चलाया जाए तो उनकी टीआरपी आज के किसी भी टीवी शो को पछाड़ सकती है.


1. देख भाई देख

इस सीरियल की कहानी मुंबई में विशाल बंगले में रहने वालें दीवान परिवार की तीन पीढ़ियों के ईद- गिर्द घूमती रहती थी.  यह धारावाहिक जया बच्चन ने लिखा और आंनद महेंद्रू ने निर्देशित किया था. शेखर सुमन, फरीद जलाल के अलावा सीरियल में कई सितारे थे. रोज की भागदौड़ के बीच की परेशानियों को इस सीरियल में हल्के-फुल्के अंदाज में पेश किया गया था.


2. ऑफिस-ऑफिस

ऑफिस की भागदौड़ और किस्सों को बेहद चटपटे अन्दाज में किए जाने वाले इस शो में मुख्य भूमिका निभाई थी अभिनेता पंकज कपूर ने. जिनके किरदार का नाम था मुसद्दी लाल. इसके अलावा ऑफिस- ऑफिस के दूसरे पात्र थे उषा जी (असावरी जोशी), शुक्ला जी (संजय मिश्रा), पटेल जी (देवेन भोजनी). इस शो को खासतौर पर ऑफिस जाने वाले लोग बेहद पसंद करते थे.


3. फ्लॉप शो

इस शो में जसपाल भट्टी नाटक और रेखाचित्रों के जरिए सामाजिक-आर्थिक समस्याओं पर व्यंग्य प्रस्तुत करते हुए ऐसे-ऐसे फन लाइनर का इस्तेमाल करते थे जिसे देखकर किसी की भी हंसी छूट पड़ती थी. शो में उनकी पत्नी सविता भट्ट भी दमदार एक्टिंग करती थी.


4. हम पांच

इस सीरियल की माथुर फैमिली को दर्शक बेहद प्यार करते थे. एक दौर था जब सारी फैमिली एकसाथ बैठकर टीवी पर इस शो को इंजाय करते हुए यह लाइन दोहराती थे ‘ यह न.1, यह न. 2 यह न. 3 यह न. 4 यह न. 5…हम पांच पम पम पाँच’. इस परिवार को देखकर लोग ये लोग पारिवारिक सदस्य कम और दोस्त ज्यादा लगते थे.


5. श्रीमान-श्रीमति

अगर आप आज का एक मशहूर टीवी सीरियल ‘भाभी जी घर पर है’ देखते हैं, तो ऐसा मुमकिन है कि आपको उस शो में 90 के दशक में आने वाला टीवी सीरियल श्रीमान-श्रीमति की झलक मिलती होगी. पत्नी-पति और पड़ोसियों की हल्की-फुल्की रोंमाटिक कहानी उस दौर में सुपरहिट मानी जाती थी.


6. पड़ोसन

आज जहां लोग अपने पड़ोस में रहने वाले लोगों को जानते तक नहीं, वहीं ये सीरियल दो पड़ोसी परिवारों को एक परिवार के तरह दिखाता था. हालांकि शो में एक रोंमाटिक एंगल भी था. पड़ोसन सीरियल दूरदर्शन पर पसंद किए जाने वाले सीरियल्स में से सबसे ऊपर था.



7. मुंगेरी लाल के हसीन सपने

शो में मुंगेरी लाल का किरदार निभाया था रघुवीर यादव ने. मुंगेरी घर में अपनी पत्नी और ऑफिस में अपने बॉस से बहुत परेशान था. उसे दिन में सपने देखने की आदत थी और वो सपनों में हमेशा अपने बॉस को मजा चखाते हुए देखता था.


Read More :

15 साल की उम्र में बनी थी सीता, अब ऐसी दिखती हैं दीपिका

बैडमिंटन प्लेयर थी टीवी सीरियल की राजकुमारी चंद्रकांता, 25 साल बाद दिखती है ऐसी

महज 15 साल की उम्र में की शादी, जानें राखी के जीवन के कुछ राज

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 3.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग