blogid : 7629 postid : 710641

क्या यही है कलियुग के पिशाचों का पता

Posted On: 1 Mar, 2014 Others में

अद्भुत दुनियारंग-बिरंगी दुनिया की अद्भुत तस्वीर और अनोखे रंग-ढंग को दर्शाता ब्लॉग

विविधा

1490 Posts

1294 Comments

वो हजारों साल पहले इस धरती को अलविदा कह गए थे लेकिन अचानक उन्हें फिर देखा जाने लगा. कोई उन्हें कलयुग का पिशाच बोलता है तो कुछ के लिए वह आने वाले खतरे की आहट बन गए हैं……



विलुप्त होने के बाद जिन्हें सिर्फ किस्सों और कहानियों के माध्यम से सुना या देखा जाता रहा हो, जब उनका सामना वास्तविक जीवन में हो जाए तो एक अजीब सी सिहरन तो जहन में उठती ही है, साथ ही अपनी आंखों पर विश्वास करना तक मुश्किल हो जाता है कि क्या वाकई ये सच में हो सकता है?



वैसे भी कभी-कभार हमारे सामने या आसपास कुछ ऐसी घटनाएं हो जाती हैं जो हमें खुद पर यकीन करने तक से रोक देती हैं और रुक-रुक कर एक ही बात जहन में आती है कि ऐसा नहीं हो सकता. जलपरियों से जुड़ी ऐसी ही एक घटना वीडियो के माध्यम से हम आपको दिखाने जा रहे हैं. सुंदर और छरछरी काया वाली जलपरियां या मरमेड को अब तक हम सिर्फ काल्पनिक कहानियों का ही एक हिस्सा समझते आए हैं लेकिन यह वीडियो उनके असल में होने की बात को पुख्ता करता है:




इससे पहले हिम मानव और मैमथ जैसे जीवों का देखे जाने जैसे दावे किए जा चुके हैं और यह एक ऐसी पहेली बन चुकी है जिसे जितना सुलझाने की सोचो उतना ही ज्यादा उलझती जाती है. हिम मानव या येति को भारत सहित नेपाल और तिब्बत के दुर्गम-निर्जन क्षेत्रों में सैकड़ों वर्षों से लोग देखते आ रहे हैं, लेकिन यह हिम मानव इंसानी दुनिया और उनके पहुंच से बहुत दूर हैं. खतरनाक चेहरे और भयानक आकृति वाले ये हिम मानव लाल रंग की खौफनाक आंखों वाले होते हैं, जिसे देखकर कोई भी डर जाए.



इसके अलावा हाथी जैसा दिखने वाला विशालकाय जीव जिसे मैमथ कहा जाता है, वह भी विलुप्त हो चुका था लेकिन हाल ही में उसे फिर देखा गया और जानकारों का कहना है कि यह बेहद डरावना और खतरनाक प्रकृत्ति का है. मैमथ के विषय में विशेषज्ञों का कहना है कि पृथ्वी पर लगभग 4-5 हजार वर्ष पूर्व हाथी जैसा दिखने वाला लेकिन उससे भी कहीं ज्यादा विशाल एक जानवर रहता था. उसके दांत बहुत अधिक बड़े और घुमावदार होते थे और शरीर पर ऊन की तरह लंबे-लंबे बाल होते थे. आम और प्रचलित भाषा में इस जानवर को मैमथ कहा जाता है. लेकिन मैमथ नाम का यह विशाल और शायद सबसे प्राचीन हाथी आधुनिक सभ्यता की शुरुआत से काफी पहले ही दुनिया से लुप्त हो चुका है.



पारलौकिक शक्तियों पर विश्वास करने वाले लोगों का कहना है कि जलपरियां, येति, हिम मानव जैसे जीवों का फिर से इंसानी दुनिया में अपनी मौजूदगी दर्ज करवाना, धरती पर उनकी आहट महसूस किया जाना किसी बड़ी परेशानी की ओर इशारा कर रहा है.


तुम भटकती रूहों को महसूस कर सकते हो?

रोमांचक मौत का तलबगार है वो

‘जिराफ वुमेन’ के पीछे छिपा है दर्दनाक राज


Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading...
  • Facebook
  • SocialTwist Tell-a-Friend

अन्य ब्लॉग